S M L

गाजीपुर पथराव में कॉन्सटेबल की मौत: निषाद पार्टी के महासचिव हैं मुख्य आरोपी, जल्द होगी गिरफ्तारी

वाराणसी जोन के एडीजी पीवी राम शास्त्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा निषाद पार्टी के महासचिव के खिलाफ हमे सबूत मिले हैं

Updated On: Dec 30, 2018 02:50 PM IST

FP Staff

0
गाजीपुर पथराव में कॉन्सटेबल की मौत: निषाद पार्टी के महासचिव हैं मुख्य आरोपी, जल्द होगी गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में शनिवार को विरोध प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं की पत्थरबाजी में एक पुलिस कॉन्स्टेबल और दो स्थानीय नागरिकों की मौत हो गई. इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है. वाराणसी जोन के एडीजी पीवी राम शास्त्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा निषाद पार्टी के महासचिव के खिलाफ हमे सबूत मिले हैं. वो मामले में मुख्य आरोपी हैं, हम जल्द उन्हें गिरफ्तार करेंगे.

उन्होंने कहा, 'इस मामले में अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. सीएमओ के मुताबिक पुलिस कॉन्सटेबल सुरेश वत्स की मौत सिर पर चोट लगने की वजह से हुई. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आना अभी बाकी है.' उन्होंने बताया कि, 'मामले की जांच जारी है. 70-80 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.'

क्या है पूरा मामला?

शनिवार को गाजीपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाराजा सुहेलदेव को समर्पित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए आए थे. यहां उन्होंने महाराजा सुहेलदेव के नाम पर एक पोस्ट स्टांप जारी कर रैली को संबोधित किया. मृतक पुलिस कॉन्स्टेबल सुरेश वत्स उसी सभा में ड्यूटी पूरी कर के वापस लौट रहे थे. तभी गाजीपुर में विरोध प्रदर्शन के दौरान निशाद पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी शुरू कर दी.

इसी पत्थरबाजी में वत्स की मौत हो गई.वहीं दो स्थानीय नागरिकों की भी मौत हो गई थी. पुलिस ने बताया कि निशाद पार्टी के कार्यकर्ता पहले से ही अटवा मोड़ पर प्रदर्शन कर रहे थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi