S M L

महंगे शौक के लिए 'एचआर एग्जीक्यूटिव' बना लुटेरा, पानी की तरह बहाता था पैसा

इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों से 6 मोबाइल, 3 चाकू और 38 हजार रुपए समेत कई चीजें बरामद हुई हैं

Updated On: Sep 23, 2018 02:45 PM IST

FP Staff

0
महंगे शौक के लिए 'एचआर एग्जीक्यूटिव' बना लुटेरा, पानी की तरह बहाता था पैसा

यूपी के गाजियाबाद से लुटेरों के एक गैंग का पर्दाफाश हुआ है. इस गैंग की हैरान करने वाली बात यह है कि इसके सदस्य काफी पढ़े लिखे हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने बताया कि आरोपी एक कार कंपनी में एचआर एग्जीक्यूटिव था, जब उसकी जॉब छूट गई तो उसने बदमाशों का एक गैंग बनाया. यह गैंग लूटपाट और स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देता था.

इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों से 6 मोबाइल, 3 चाकू और 38 हजार रुपए समेत कई चीजें बरामद हुई हैं. पकड़ा गया एक आरोपी एमबीए की पढ़ाई कर चुका है और दूसरा डेंटल क्लीनिक चला रहा था. मीडिया रिपोर्ट से मिली जानकारी के मुताबित आरोपियों का नाम अनुराग तिवारी, पवन, प्रशांत और विवेक है.

इस गैंग का नेतृत्व पवन और अनुराग करते थे. पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है. पूछताछ में बदमाशों ने बताया कि उनकी जॉब छूट गई थी जिसके बाद उनके महंगे शौक पूरे नहीं हो पा रहे थे. इसलिए उन्होंने यह रास्ता चुना. लूट से जो रुपया मिलता था, उससे वह जमकर खरीददारी करते थे और बचे पैसों से पार्टी किया करते थे.

गाजियाबाद में हुई 28 अगस्त, 1 और 14 सितंबर को हुई लूट की वारदात में भी इन्हीं का हाथ था. इस पूरे गैंग के मास्टरमाइंड के तौर पर अनुराग तिवारी का नाम सामने आया है. वह एमबीए की पढ़ाई कर चुका है और एक नामी कंपनी में एचआर एग्जीक्यूटिव भी रहा है. लेकिन जब उसकी जॉब छूट गई तो उसने लूट को अपनी कमाई का जरिया बनाया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi