S M L

वी के सिंह 38 भारतीय शवों को लाने इराक के मोसुल रवाना

विदेश राज्य मंत्री ने रवाना होने से पहले कहा, 'मैं 38 भारतीयों के शवों को वापस लाने मोसुल जा रहा हूं. अभी भी एक भारतीय का केस पेंडिंग होने की वजह से उसका शव हमें नहीं मिल सकेगा'

Updated On: Apr 01, 2018 05:54 PM IST

FP Staff

0
वी के सिंह 38 भारतीय शवों को लाने इराक के मोसुल रवाना

विदेश राज्य मंत्री जनरल वी के सिंह इराक में मारे गए 39 भारतीयों के शव लाने के लिए रविवार को इराक के मोसुल रवाना हो गए हैं. वी के सिंह भारतीय नागरिकों के शवों को लेकर सोमवार को स्वदेश लौटेंगे.

वी के सिंह ने रवानगी से पहले कहा, 'मैं 38 भारतीय शवों को वापस लाने मोसुल जा रहा हूं.' उन्होंने बताया कि अभी भी एक भारतीय का केस पेंडिग होने की वजह से उनका शव हमें नहीं मिल पाएगा. जनरल वी के सिंह ने बताया कि हम शवों को लाकर परिवार वालों को सबूतों के साथ सौप देंगे ताकि उनको इसके बारे में कोई संदेह न रहे.

भारत आने के बाद सबसे पहले यह विशेष विमान अमृतसर जाएगा जहां परिवारवालों को उनके अपनों का शव सौंपा जाएगा. यहां से शेष शवों को लेकर यह विमान कोलकाता और पटना के लिए रवाना होगा.

वी के सिंह ने कहा, 'मैं इराक के लिए रवाना हो रहा हूं. शवों को पहले अमृतसर लाया जाएगा फिर कोलकाता और पटना पहुंचाया जाएगा.' उन्होंने बताया कि परिवारवालों को इसकी सूचना दे दी गई है.

क्या है यह पूरा मामला

पिछले दिनों संसद में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 4 साल पहले इराक में अगवा किए गए 40 भारतीय लोगों में से 39 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की थी. उनमें से एक खुद बांगलादेशी बताकर बच निकलने में कामयाब रहा था.

4 साल बाद इस तरह अचानक मौत की पुष्टि होने से इन लोगों के परिवारवालों का गुस्सा फूट पड़ा था. उन्होंने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से पूछा कि 4 साल तक उनको झूठी तसल्ली क्यों दी गई. उन्होंने मारे गए लोगों के डीएनए रिपोर्ट देखने की भी मांग उठाई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi