S M L

GATE 2019 के लिए 1 सितंबर से रजिस्ट्रेशन शुरू, जानें कैसे करेंगे रजिस्टर

2019 के सत्र के लिए एम.ई./एम.टेक और पीएचडी कोर्सेज में नामांकन के लिए ये परीक्षा आयोजित की जाएगीम

Updated On: Aug 28, 2018 11:34 AM IST

Rajeev Kumar Maurya

0
GATE 2019 के लिए 1 सितंबर से रजिस्ट्रेशन शुरू, जानें कैसे करेंगे रजिस्टर
Loading...

GATE 2019 में नामांकन के लिए प्रवेश परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन की शुरुआत एक सितंबर 2018 से होगी. राष्ट्रीय स्तर पर पोस्ट ग्रेजुएट स्तर की परीक्षा का आयोजन 2019 में आईआईटी मद्रास करेगा. 2019 के सत्र के लिए एम.ई./एम.टेक और पीएचडी कोर्सेज में नामांकन के लिए ये परीक्षा आयोजित की जाएगी.

आईआईटी, आईआईएससी, एनआईटी, जीएफटीआई और उसके जैसे संस्थानों के अलावा देश के अन्य विश्वविद्यालयों में इन कोर्सेज के लिए उम्मीदवारों का चयन किया जाएगा. इसके लिए फरवरी के 2, 3, 9और 10 तारीख को ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन किया जाएगा. इसके तहत 24 पेपरों की परीक्षा ली जाएगी. GATE एक ऐसी परीक्षा है जो कि आईआईएससी, बैंगलोर और सात आईआईटी संस्थानों के द्वारा नेशनल कोआर्डिनेशन बोर्ड (एनसीबी)- GATE और केंद्रीय मानव संसाधन विभाग की तरफ से आयोजित की जाती है.

इसके लिए आवेदन पत्र GATE ऑनलाइन एप्लीकेशन प्रोसेसिंग सिस्टम (GOAPS) पर 21 सितंबर 2018 तक उपलब्ध रहेंगे. इन कोर्सेज में एडमिशन लेने के लिए इच्छुक उम्मीवारों को आवेदन पत्र भरने से पहले रजिस्टर करना पड़ेगा. हालांकि जो उम्मीदवार इस तारीख तक रजिस्ट्रेशन में असफल रहते हैं उनको एक मौका और मिलेगा. समय पर रजिस्टर न करने वाले उम्मीदवार लेट फीस के साथ एक अक्टूबर तक रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे. उम्मीदवारों को ये सलाह दी जाती है कि एप्लीकेशन फॉर्म को भरने से पहले वो GATE-2019 के लिए निर्धारित योग्यता के बारे में ध्यान से पता लगा लें.

GATE 2019 की परीक्षा में इस बार बदलाव किया गया है. महत्वपूर्ण बदलाव ये है कि इस बार की परीक्षा में एक अतिरिक्त विषय को जोड़ा गया है. वो अतिरिक्त विषय है ‘स्टेटिसटिक्स’ जिसका कोड है ‘ST’. इस अतिरिक्त विषय के जुड़ जाने से GATE के कुल पेपरों की संख्या बढ़कर 24 हो जाएगी.

GATE रजिस्ट्रेशन की पूरी विस्तृत प्रक्रिया का वर्णन नीचे किया गया है.

GATE 2019 की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

कैंडिडेट्स को एप्लीकेशन फार्म को चरणवार तरीके से भरने की आवश्यकता होगी. नीचे विस्तार से बताया गया है कि किस तरह से चरणवार तरीके से GATE 2019 के आवेदन फार्म को भरा जा सकता है.

प्रथम चरण- GOAPS के तहत रजिस्ट्रेशन: सबसे पहले उम्मीदवारों को GOAPS के माध्यम से रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया की शुरुआत करनी चाहिए. इसक तहत कैंडिडेट्स को रजिस्ट्रेशन के दौरान अपना नाम, ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर देना होगा. इन जानकारियों को देने के बाद उम्मीदवारों के वेरीफिकेशन के लिए उनको इनरोलमेंट नंबर और एक ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) प्राप्त होगा. प्राप्त ओटीपी के माध्यम से वेरीफिकेशन प्रोसेस को पूरा करना पड़ेगा. इसके बाद उम्मीदवारों को एक पासवर्ड का चयन करना पड़ेगा. कैंडिडेट्स से ये उम्मीद की जाती है कि वो अपना पासवर्ड मजबूत बनाएं.

दूसरा चरण- एप्लीकेशन फार्म को भरना: रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया के सफलतापूर्वक संपन्न हो जाने के बाद उम्मीदवारों को अपने इनरोलमेंट नंबर और पासवर्ड के साथ लॉगइन करना पड़ेगा. लॉगइन करने के बाद वहां पर GATE एप्लीकेशन फार्म नजर आएगा जिसे ध्यान से भरना है. इस फार्म को भरने के दौरान उम्मीदवारों को व्यक्तिगत, शैक्षणिक और अन्य जरूरी जानकारियां भरनी पड़ती हैं ऐसे में उम्मीदवारों को ये सलाह दी जाती है कि वो जानकारियां भरते समय सावधानी बरतें.

तीसरा चरण- दस्तावेजों की स्कैन्ड कॉपी को अपलोड करना: एप्लीकेशन फार्म में मौजूद सभी जानकारियों को सही तरीके से भरने के बाद उम्मीदवारों को अपने जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करना होता है. उम्मीदवारों को अपने कागजात GATE 2019 के एडमिशन के लिए बनाई गई ऑथोरिटी के द्वारा तय किए फार्मेट के अनुसार ही अपलोड करना होता है

- दिए गए फार्मेट के अनुसार योग्यता सर्टिफिकेट

- फोटोग्राफ (3.5cm x 4.5cm डायमेंशन के JPEG फार्मेट में)

- हस्ताक्षर (2cm x 7cm डायमेंशन के JPEG फार्मेट में)

चौथा चरण- भरे गए फार्म को दोबारा ध्यान से देखना: स्कैन्ड किए हुए दस्तावेजों को अपलोड करने के पश्चात उम्मीदवार अपने द्वारा भरे गए आवेदन पत्र को देख सकते हैं. उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वो GATE 2019 के लिए भरे गए आवेदन फार्म को ध्यान से प्रीव्यू कर लें. प्रीव्यू के दौरान उम्मीदवारों को अपने द्वारा भरे गए फार्म को देखने का मौका होता है ऐसे में अगर फार्म भरने के दौरान किसी भी तरह की जानकारी देने में गलती हो गई हो या छूट गई हो तो उम्मीदवार प्रीव्यू करने के दौरान उसे सुधार सकते हैं. अगर किसी तरह के सुधार की गुंजाइश है तो उसे तत्काल सुधारकर आगे बढ़ने की कार्रवाई करनी चाहिए.

पांचवा चरण- एप्लीकेशन फीस का भुगतान करना: सही तरीके से एप्लीकेशन फार्म भर लेने के बाद उम्मीदवारों को भुगतान के पेज पर रीडायरेक्ट किया जाएगा. एप्लीकेशन फार्म भरने के लिए निर्धारित की गई फीस को उम्मीदवारों को ऑनलाइन मोड में ही भरना पड़ेगा. इसके लिए नेट बैंकिंग, क्रेडिट कार्ड या फिर डेबिट कार्ड का सहारा लिया जा सकता है. पेमेंट के पेज पर सफलतापूर्वक भुगतान कर दिए जाने के बाद उम्मीदवारों को GOAPS की वेबसाइट पर रीडायरेक्ट कर दिया जाएगा. उम्मीदवार GOAPS अकाउंट पर लॉगइन करके अपने भुगतान की स्थिति को देख सकते हैं.

अप्लीकेशन फीस

Application Fees

एसनं. कैटेगरी आवेदन फीस* तय सीमा के बाद की फीस
1 पुरुष वर्ग (जनरल/ओबीसी) और अन्य Rs. 1500 Rs. 2000
2 एससी/एसटी/पीपल विथ डिसेबिलिटी और महिला (सभी कैटेगरी) Rs. 750 Rs. 1250
3 अंतर्राष्ट्रीय विद्यार्थी – दुबई और सिंगापुर US$ 100 US$ 120
4 अंतर्राष्ट्रीय स्टूडेंट्स – अदीस अबाबा, कोलंबो, ढ़ाका और काठमांडू US$ 50 US$ 70
 

*ऊपर दी गयी फीस में सर्विस चार्जेस, प्रोसेसिंग फीस और कोई अन्य चार्जेस जो कि बैंकों के द्वारा लिया जाता है, वो इसमें शामिल नहीं है.

छठा चरण- GATE 2019 के एप्लीकेशन फार्म को सबमिट करने की प्रक्रिया: उम्मीदवारों को अपना भरा हुआ फार्म केवल GOAPS के माध्यम से सबमिट करना है वो भी इसके लिए निर्धारित की गई फीस का सफलतापूर्वक भुगतान करने के बाद. जो उम्मीदवार GATE 2019 की परीक्षा के लिए आवेदन कर रहे हैं उन्हें एडमिशन ऑथोरिटी की तरफ से ये सलाह दी गई है कि वो अपना फार्म खुद ही भरें क्योंकि अगर किसी दूसरे से फार्म भरवाया गया तो न केवल गलतियों की गुंजाइश रहेगी बल्कि कई जगहों पर पूरी और सही जानकारी में भी गड़बड़ी की आशंका बनी रहेगी. अगर आवेदक के फार्म में किसी भी तरह की गलत या अधूरी जानकारी मिली तो एडमिशन प्रक्रिया से जुड़े प्रबंधन को आवेदन रद्द करने का पूरा अधिकार होगा.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi