S M L

4 आर्मी जवानों पर दिव्यांग महिला से चार सालों तक रेप का आरोप, केस दर्ज

इन चारों जवानों पर आईपीसी की धारा 376 (रेप) और 354 (शोषण) की धाराओं में केस दर्ज किया गया है

Updated On: Oct 17, 2018 02:04 PM IST

FP Staff

0
4 आर्मी जवानों पर दिव्यांग महिला से चार सालों तक रेप का आरोप, केस दर्ज
Loading...

आर्मी के चार जवानों पर एक दिव्यांग महिला के साथ चार सालों तक रेप करने के आरोप में केस दर्ज किया गया है. इन जवानों ने पुणे के पास खड़की में मिलिट्री हॉस्पिटल में कथित रूप से 30 साल की इस महिला के साथ चार सालों तक रेप किया.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, उस महिला ने पुलिस में दर्ज कराई गई अपनी शिकायत में बताया कि उसने ये मिलिट्री अस्पताल 2014 में जॉइन किया था. वो वहां चतुर्थ श्रेणी की कर्मचारी की हैसियत से काम करती थी. वो नाइट शिफ्ट में आती थी. उसी दौरान एक जवान ने फैमिली वार्ड के बाथरूम में पहली दफा उसके साथ रेप किया.

उसने शिकायत पत्र में दर्ज करवाया कि उसने रेप की बात अपने सीनियर नर्सिंग असिस्टेंट और एक दूसरे जवान को टेक्स्ट मैसेज के जरिए बताई. लेकिन कोई एक्शन लेने के बजाय वो दूसरा फौजी भी उसे सेक्सुअल फेवर्स की मांग करने लगा. बात न मानने पर उसने महिला के मैसेज को सार्वजनिक करने की धमकी भी दे दी.

इसके बाद उन दोनों जवानों के साथ मिलकर दो और जवानों ने चार साल के अतंराल में कई बार उसका रेप किया. इनमें से दो जवानों ने कथित रूप से उसका वीडियो क्लिप बनाकर उसे ब्लैकमेल भी किया.

पीड़िता ने बताया कि वो विधवा है और उसका 12 साल का बेटा है. उसने अपने साथ हो रहे इस अत्याचार की जानकारी कई बार अस्पताल प्रशासन के अधिकारियों को दी लेकिन किसी ने कोई ध्यान नहीं दिया. महिला ने ये भी आरोप लगाया कि शिकायत के बाद भी प्रशासन ने उसे नाइट शिफ्ट से नहीं हटाया.

लेकिन आखिरकार एक एनजीओ के माध्यम से महिला का केस सामने आया. महिला ने इसकी जानकारी एक एनजीओ को दी, जिसने एक साइन लैंग्वेज एक्सपर्ट की मदद से उसका बयान दर्ज करवाया और सोमवार को चारों जवानों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया.

इन चारों जवानों पर आईपीसी की धारा 376 (रेप) और 354 (शोषण) की धाराओं में केस दर्ज किया गया है. खड़की पुलिस में केस दर्ज होने के अलावा इन जवानों के खिलाफ जांच भी बिठाई गई है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi