S M L

हरिद्वार के हर की पैड़ी में अटल जी की अस्थियां प्रवाहित, उमड़ा जनसैलाब

विसर्जन से पहले अस्थि कलश को शांतिकुंज लाया जाएगा, यहां गायत्री साधक और आम लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकेंगे

| August 19, 2018, 02:25 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Aug 19, 2018

  • 13:31(IST)

    अटल जी की अस्थियों को गंगा में प्रवाहित किए जाने के समय वहां बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी मौजूद रहे. अटल जी की अस्थियों को देश की 100 अलग-अलग पवित्र नदियों में भी विसर्जित किया जाएगा

  • 13:28(IST)
  • 13:28(IST)

    पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां हरिद्वार में हर की पैड़ी में विसर्जित कर दी गई हैं. अटल जी की दत्तक पुत्री नमिता ने इन्हें गंगा में प्रवाहित किया

  • 13:01(IST)
  • 13:00(IST)
  • 13:00(IST)

    उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में 20 अगस्त को प्रार्थना सभा होगी

  • 12:58(IST)

    हरिद्वार स्थित हर की पौड़ी में अटल जी की अस्थियों के विसर्जन की तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं

  • 12:57(IST)
  • 12:57(IST)

    अटल जी की अस्थि कलश यात्रा में बीजेपी समर्थकों के साथ बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों का भी भारी हुजूम है. इस कलश यात्रा में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ  के अलावा बीजेपी के करीब 15 हजार कार्यकर्ता भी शामिल हैं

  • 12:06(IST)
  • 12:05(IST)

    यह अस्थि कलश यात्रा प्रेम आश्रम तक जाएगी और फिर हरिद्वार के हर की पौड़ी में अस्थियां विसर्जित कर दी जाएंगी. इस यात्रा में अटल बिहारी वाजपेयी के परिवार के सदस्य भी मौजूद हैं

  • 12:03(IST)

    इस अस्थि कलश यात्रा में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत हिस्सा ले रहे हैं 

  • 12:00(IST)

    पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की आज हरिद्वार में अस्थि कलश यात्रा निकाली जा रही है

हरिद्वार के हर की पैड़ी में अटल जी की अस्थियां प्रवाहित, उमड़ा जनसैलाब
Loading...

पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां आज यानी रविवार को हरिद्वार में गंगा नदी में प्रवाहित की जाएंगी. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता अस्थियां लेकर दिल्ली से हरिद्वार पहुंचे हैं. उनके साथ वाजपेयी के परिवार के सदस्य भी यहां आए हैं.

इससे पहले रविवार सुबह अटल जी की बेटी नमिता और नातिन निहारिका ने दिल्ली के स्मृति स्थल पहुंचकर वहां से उनकी अस्थियों को इकट्ठा किया.

बीजेपी नेता भूपेंद्र यादव ने बताया कि हरिद्वार में विसर्जन कार्यक्रम में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत समेत अन्य नेता शामिल होंगे.

उन्होंने कहा कि उनके (अटल बिहारी वाजपेयी) अस्थि कलश को देश भर की विभिन्न पवित्र नदियों में विसर्जित किया जाएगा, और अस्थि कलश को सभी जिला मुख्यालयों और राज्यों की राजधानियों में ले जाया जाएगा. इसके अलावा राज्यों की राजधानी, जिला मुख्यालयों और पंचायत स्तर पर प्रार्थना सभाओं का भी आयोजन किया जाएगा.'

विसर्जन से पहले अस्थि कलश को शांतिकुंज लाया जाएगा, यहां गायत्री साधक और आम लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकेंगे.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने अस्थि कलश यात्रा की समीक्षा की

शनिवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अस्थि कलश यात्रा को लेकर की जा रही तैयारियों की समीक्षा की. उन्होंने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ हरकी पैड़ी का निरीक्षण किया. रावत ने बताया कि दिल्ली से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत अन्य वरिष्ठ नेता अस्थिकलश लेकर रविवार सुबह 10.20 बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर पहुंचेंगे.

उनके साथ वाजपेयी के परिवार के सदस्य भी मौजूद रहेंगे. जौलीग्रांट से हेलीकाप्टर के जरिए अस्थि कलश दूधाधारी चौक पर बनाए गए अस्थाई हेलीपैड पर लाया जाएगा. यहां से लगभग 11 बजे तक उसे शांतिकुंज ले जाया जाएगा. यहां लोग अपने प्रिय नेता को अंतिम श्रद्धांजलि दे सकेंगे. इसके बाद उनके परिजन और वरिष्ठ नेता अस्थिकलश लेकर हरकी पैड़ी के लिए रवाना होंगे. जहां दोपहर साढ़े 12 बजे से डेढ़ बजे तक यहां अस्थि विसर्जन कार्यक्रम होगा.

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार को दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया था. वो यहां बीते 11 जून से भर्ती थे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi