S M L

सुप्रीम कोर्ट अवमानना: नागेश्वर राव को पूरे दिन कोर्ट के कोने में बिठाया, शाम को मिली छुट्टी

सुप्रीम कोर्ट ने CBI के पूर्व अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव को पूरे दिन कोर्ट के कोने में बैठे रहने की सजा दी थी

Updated On: Feb 12, 2019 05:45 PM IST

FP Staff

0
सुप्रीम कोर्ट अवमानना: नागेश्वर राव को पूरे दिन कोर्ट के कोने में बिठाया, शाम को मिली छुट्टी

सीबीआई के पूर्व अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव को सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का दोषी ठहराए जाने के बाद दी गई सजा से मुक्त कर दिया है. साथ ही मंगलवार की शाम उन्हें अदालत कक्ष से बाहर जाने की अनुमति दे दी गई. कोर्ट ने उन्हें अवमानना करने पर मंगलवार को पूरे दिन कोर्ट के कोने में बैठे रहने की सजा दी थी.

मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई के पूर्व अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव को कोर्ट की अवमानना का दोषी करार दिया था. इसी के साथ उनपर कोर्ट ने 1 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया था. कोर्ट ने कहा कि यह समझ में नहीं आ रहा है कि राव ने बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले की जांच कर रहे अधिकारी का ट्रांसफर बिना कोर्ट को बताए क्यों कर दिया. जस्टिस रंजन गोगोई ने राव को फटकार लगाते हुए कहा- जब तक हम खड़े नहीं होते, दोनों उठो और अदालत के एक कोने में बैठ जाओ.

इसके पहले एम नागेश्वर राव ने चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के सामने स्वीकार किया था कि एजेंसी के पूर्व संयुक्त निदेशक एके शर्मा का तबादला करके उन्होंने ‘गलती’ की. राव ने शीर्ष अदालत से इसके लिए माफी मांगते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का उल्लंघन करने की उनकी कोई मंशा नहीं थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi