S M L

पीएम मोदी से मिलकर फादर टॉम ने कहा शुक्रिया, IS के कब्जे से 18 महीने बाद छूटे

विदेश राज्य मंत्री जनरल वी. के सिंह ने कहा कि रिहाई के लिए किसी तरह की फिरौती नहीं दी गई है

Updated On: Dec 11, 2017 12:44 PM IST

FP Staff

0
पीएम मोदी से मिलकर फादर टॉम ने कहा शुक्रिया,  IS के कब्जे से 18 महीने बाद छूटे

केरल के पादरी टॉम उजहूनालिल 18 महीने बाद गुरुवार को दिल्ली पहुंच गए. उन्हें यमन में कुख्यात अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन आईएस ने बंधक बना लिया था. उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की. दोनों को धन्यवाद कहा.

इससे पहले गुरूवार की सुबह नई दिल्ली हवाई अड्डे पर केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस ने उनका स्वागत किया. फादर टॉम यहां पीएम मोदी और सुषमा स्वराज से मुलाकात करेंगे.

12 सितंबर को भारत सरकार ने टॉम को आईएसआईएस से रिहा करा लिया था. टॉम ने कहा, 'देश लौटकर बहुत खुश हूं. जिन लोगों ने मेरी रिहाई के लिए कोशिशें कीं, उनके लिए आभारी हूं.'

रिहाई के लिए किसी तरह की फिरौती नहीं दी गई है 

के. जे. अलफोंस ने कहा, 'हम सूडान और ओमान के शासकों और वेटिकन का उनके महान प्रयासों के लिए धन्यवाद  करते हैं. इन सभी महान प्रयासों से ही फादर टॉम वापस आए हैं.' वही विदेश राज्यमंत्री जनरल वी. के सिंह ने कहा कि 'रिहाई के लिए किसी तरह की फिरौती नहीं दी गई है.'

फादर टॉम अदन में रह रहे थे, जहां से आईएस ने उन्हें 18 महीने पहले बंधक बना लिया था. 6 मार्च 2016 को IS के आतंकियों ने अदन के एक ओल्ड ऐज केयर होम पर हमले के दौरान अगवा किया गया था.

बाद में फादर का खुद को बचाने की गुहार लगाने वाला एक वीडियो सामने आया था, जिसमें उन्होंने प्रणब मुखर्जी, नरेंद्र मोदी, पोप फ्रांसिस और क्रिश्चियन कम्युनिटी से मदद की अपील की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi