S M L

मध्य प्रदेश: चाय बेचने वाले की बेटी 'आसमान' में भरेगी ऊंची उड़ान

आंचल गंगवाल पिछले 5 बार से इंटरव्यू राउंड तक पहुंचकर सेलेक्ट नहीं हो पाती थी. मगर छठी बार उनका इंडियन एयर फोर्स के फ्लाइंग ब्रांच में सेलेक्शन हुआ

Updated On: Jun 24, 2018 11:07 AM IST

FP Staff

0
मध्य प्रदेश: चाय बेचने वाले की बेटी 'आसमान' में भरेगी ऊंची उड़ान

मध्य प्रदेश के नीमच जिले की रहने वाली आंचल अग्रवाल का सेलेक्शन इंडियन एयर फोर्स के फ्लाइंग ब्रांच में हुआ है. बेहद साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाली 24 वर्षीय आंचल के पिता चाय बेचते हैं.

अपनी इस कामयाबी पर आंचल ने कहा कि 'जब मैं 12वीं कक्षा में पढ़ती थी तो उत्तराखंड में बाढ़ आने की घटना हुई थी. उस वक्त बाढ़ पीड़ितों के रेस्क्यु में लगे सेना के जवानों को देख मैं काफी प्रेरित हुई और तभी मैंने यह निर्णय कर लिया कि मैं भी फोर्स ज्वाइन करूंगी.'

यहां तक पहुंचने का सफर आसान नहीं था

आंचल लिखित परीक्षा में क्वालिफाई करने के बाद 5 बार इंटरव्यू राउंड तक पहुंची लेकिन सेलेक्ट नहीं हो पाती थी. अपनी छठी कोशिश में उसे यह कामयाबी मिली और उसका एयर फोर्स के लिए चयन हुआ. आंचल देशभर के उन 22 छात्रों में शामिल हो पाईं, जिनका सेलेक्शन हुआ है.

इस साल करीब 6 लाख बच्चे इस परीक्षा में शामिल हुए थे. आंचल को अब हैदराबाद के डुंडीगुल में बने 'एयर फोर्स अकेडमी' में 30 जून को रिपोर्ट करना है.

बैंक से लोन लेकर बच्चों को पढ़ाया-लिखाया

आंचल के एयर फोर्स में सेलेक्शन से पूरा परिवार काफी खुश है. उसके पिता सुरेश गंगवाल की खुशी का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि उन्होंने अपनी कमजोर आर्थिक स्थिति को कभी भी अपने तीनों बच्चों की पढ़ाई के बीच रूकावट बनने नहीं दिया. उन्होंने बैंक से लोन लेकर अपने बच्चों को पढ़ाया और लिखाया. उनका बेटा और उनकी छोटी बेटी अभी इंजीनियरिंग और बारहवीं कक्षा में हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi