S M L

फारूक अब्दुल्ला ने कहा, कश्मीरियों की आंखों में धूल झोंक रहीं महबूबा मुफ्ती

फारूक अब्दुल्ला ने अरुण जेटली से महबूबा मुफ्ती की मुलाकात पर भी आपत्ति जताई है

Updated On: Jul 29, 2017 10:31 PM IST

FP Staff

0
फारूक अब्दुल्ला ने कहा, कश्मीरियों की आंखों में धूल झोंक रहीं महबूबा मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर की विपक्षी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद फारूक अब्दुल्ला ने राज्य के हस्तशिल्प, मेवों और पर्यटन उद्योग को जीएसटी से छूट दिए जाने की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की मांग को लेकर उनकी कड़ी आलोचना की है.

उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर महबूबा की केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के साथ मुलाकात करना कश्मीर के लोगों की आंखों में धूल झोंकने का प्रयास है.

श्रीनगर से लोकसभा सांसद फारूक अब्दुल्ला ने गांदरबल में आयोजित कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, 'या तो महबूबा मुफ्ती ने राज्य केबिनेट की बैठक में जीएसटी विधेयक को मंजूरी देने से पहले उसे देखा तक नहीं है और या फिर वो साफ तौर पर कश्मीरियों को धोखे में रख रही हैं.'

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ये उनकी समझ से परे है कि एक विधेयक जिसे राज्य सरकार ने हाल ही में पारित किया है, अब उसी मुद्दे पर सरकार को लोगों से बातचीत करनी पड़ रही है.

अब्दुल्ला ने कहा कि जब पूरा राज्य ख़ासतौर से राज्य का व्यापारिक समुदाय जीएसटी को लेकर चिंतित था कि ये व्यवस्था छोटे और मझोले उद्योगों के लिए ठीक नहीं होगी तब मुख्यमंत्री इस कानून की सबसे बड़ी समर्थक थीं.

उन्होंने राज्य की मुफ्ती सरकार को 'गूंगी-बहरी सरकार' बताते हुए कहा कि ये सरकार विशेषतौर से व्यापारिक समुदाय और राज्य की जनता की ज़रूरत और उनकी आकांक्षाओं से अनभिज्ञ है.

अब्दुल्ला ने भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत शुरू किए जाने के अपने रुख को दोहराते हुए कहा कि जब तक कश्मीर मुद्दे का समाधान नहीं किया जाता तब तक राज्य में शांति मुश्किल है.

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को पूर्व-प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की नीतियों पर चलना चाहिए जो कि बातचीत के पक्षधर थे.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi