S M L

दिल्ली किसान आंदोलन: केंद्र की फसल बीमा योजना किसानों के साथ धोखाधड़ी- अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के रामलीला मैदान में जमा हुए हजारों किसान आज संसद भवन तक मार्च करेंगे

| November 30, 2018, 06:38 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Nov 30, 2018

  • 16:58(IST)
  • 16:03(IST)

    किसानों को फसल के पूरे दाम मिल गए तो किसान कभी कर्ज नहीं मांगेंगे. आज किसानों को हाथ फैलाना पड़ता है. जब किसान मार्केट में फसल बेचने जाता है तो खरीदने वाला नहीं मिलता. किसानों की फसल का दाम तय किया जाए. बीमा कंपनी के मालिक किसानों के अकाउंट से पैसे निकाल लेते हैं. ये बीजेपी की किसान डाका योजना है.

  • 16:00(IST)

    जिस देश के अंदर किसानों को आत्महत्या करनी पड़ी, जिस देश का किसान खुद भुखमरी का शिकार हो. ऐसा देश कभी तरक्की नहीं कर सकता. भारतीय जनता पार्टी ने किसानों से जो वादे किए उससे बीजेपी मुकर गई. किसानों को 100 रुपए में से 50 रुपए मुनाफा देंगे. सबसे पहले जितना कर्ज किसानों का है वो सारा कर्ज माफ होना चाहिए. दूसरी मांग किसानों को फसल का पूरा दाम मिलना चाहिए: अरविंद केजरीवाल

  • 15:54(IST)

    मोदी जी ने कहा था कि एमएसपी बढ़ेगी, पीएम ने बोनस का भी वादा किया था, लेकिन हालात पर नजर डालें, सिर्फ झूठे वादे किए गए थे और कुछ नहीं.

  • 15:51(IST)

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि बोनस मिलेगा. आज हालत क्या है आप बीमा का पैसा देते हो तो अनिल अंबानी की जेब में आपका पैसा जाता है. आपका कर्जा माफ नहीं किया जाता. हिंदुस्तान का किसान मोदी जी से अनिल अंबानी का हवाई जहाज नहीं मांग रहा है. हमारी मेहनत के लिए भी आपको हमारा कर्जा माफ करना ही पड़ेगा.

  • 15:49(IST)

    आज हिंदुस्तान के सामने दो बड़े मुद्दे हैं. एक मुद्दा हिंदुस्तान में किसान के भविष्य का मुद्दा दूसरा देश के युवाओं के भविष्य का मुद्दा. पिछले साढ़े चार साल में नरेंद्र मोदी ने 15 अमीर लोगों का कर्जा माफ किया है. अगर 15 अमीर लोगों का कर्जा माफ किया जा सकता है तो किसानों का कर्ज माफ क्यों नहीं किया जा सकता?: राहुल गांधी

  • 15:44(IST)

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी किसान आंदोलन में पहुंच चुके हैं. हजारों किसान संसद भवन का घेराव करेंगे.

  • 15:13(IST)

    राहुल गांधी भी जल्द पहुंचने वाले हैं: राजू शेट्टी, कांग्रेस

  • 15:12(IST)

    ममता जी हर मुद्दे पर किसानों के साथ हैं. किसानों को कर्ज लेने की जरूरत ही नहीं पड़े, इस पर काम होना चाहिए: दिनेश त्रिवेदी, टीएमसी

  • 14:53(IST)

    राहुल गांधी 3:30 बजे के आसपास किसान आंदोलन में हिस्सा लेंगे. कांग्रेस, जेडीयू, समाजवादी पार्टी और अन्य विपक्षी नेता किसान आंदोलन में शामिल हो चुके हैं. 

  • 14:44(IST)

    शाम को राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल भी किसान आंदोलन में शामिल होंगे. वरिष्ठ जेडीयू नेता केसी त्यागी, सीपीआई के राष्ट्रीय सचिव डी. राजा और कुछ समाजवादी नेताओं के भी आंदोलन में हिस्सा लेने की उम्मीद है.

  • 14:08(IST)
  • AmiteshAmitesh14:08 (IST)

    प्रदर्शन में शामिल वरिष्ठ पत्रकार और एक्टिविस्ट पी साईंनाथ ने कहा कि हम किसानों की भलाई के लिए संसद में दो बिल लाए जाने की मांग से पीछे नहीं हटने वाले हैं. इस मुद्दे को हम नहीं छोड़ने वाले.

  • 14:02(IST)

    योगेन्द्र यादव ने कहा है कि किसान विरोधी को हराना है. लेकिन बाकी जो इस मंच पर आए हैं उन्हें भी डराना है. योगेन्द्र यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी किसान विरोधी हैं, इस स्लोगन को गांव-गांव तक लेकर जाना है.

  • AmiteshAmitesh14:01 (IST)

    स्वराज इंडिया के अध्यक्ष और जय किसान आंदोलन के संस्थापक योगेन्द्र यादव ने कहा है कि किसान विरोध नहीं विकल्प को पहचानना सीख लिया है, किसान ने अपने दुश्मनों को पहचानना सीख लिया है. जो भी पार्टी यहां आकर किसानों के बिल का साथ देगी, वही किसान समर्थक होगी बाकी सबको किसान विरोधी माना जाएगा.

  • 13:52(IST)

    किसानों के मार्च को दिल्ली पुलिस ने बीच में ही रोक दिया है. संसद के आसपास करीब 3500 पुलिसकर्मी तैनात हैं. किसानों को वापस लौटने को कहा जा रहा है.

  • AmiteshAmitesh13:51 (IST)

  • 13:50(IST)

    मधुर वर्मा ने कहा है कि करीब 8 हजार किसान रामलीला मैदान से लेकर जंतर-मंतर तक मार्च कर रहे हैं. पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखी है.

  • 13:49(IST)

    दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर मधुर वर्मा ने कहा है कि उन्होंने किसान नेताओं से लंबी बातचीत के बाद रामलीला मैदान से लेकर जंतर-मंतर तक कुछ शर्तों के साथ मार्च की इजाजत दी है. उन्हें उम्मीद है कि किसान नियमों के मुताबिक मार्च में हिस्सा लेंगे.

  • 13:45(IST)

    भारत में हरित क्रांति की शुरूआत करने वाले और नेशनल कमिशन ऑन फारमर्स के प्रमुख मशहूर कृषि विशेषज्ञ एम एस स्वामीनाथन ने कहा है कि दो दिन का किसान आंदोलन उनके गुस्से और दुख को जाहिर कर रहा है.

  • AmiteshAmitesh13:25 (IST)

    अतुल अंजान ने कहा कि किसानों की आत्महत्या बढ़ गई है. सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में किसान आत्महत्या कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि किसानों की भलाई के लिए स्वामीनाथन कमिटी की रिपोर्ट लागू की जाए, किसानों को पेंशन का लाभ मिले.

  • AmiteshAmitesh13:12 (IST)

    भारतीय किसान सभा के सचिव अतुल अंजान ने कहा है कि अगर सरकार किसानों की मांग नहीं मानती है तो अगले चुनाव में उसे सबक सिखाएंगे.

  • AmiteshAmitesh12:57 (IST)

    किसान आंदोलन में शामिल नेताओं की दो अहम मांग है. सबने अपने भाषणों में इसी दो मांग पर जोर दिया है. इनका कहना है कि सरकार स्पेशल सेशन में किसानों के लिए दो बिल लेकर आए. पहला- किसानों की कर्जमाफी के लिए किसान लोन मुक्ति बिल और फसलों की उचित कीमत की गारंटी के लिए बिल

  • किसान आंदोलन में शामिल ऑल इंडिया किसान सभा के बिहार से आए लक्ष्मण सिंह ने कहा है कि सरकार अगर नहीं मानती है तो 1947 जैसा आजादी का संघर्ष होगा. जिस तरह से बापू ने अंग्रेजों के खिलाफ आंदोलन बिहार से छेड़ा, जयप्रकाश नारायण ने छात्र आंदोलन बिहार से शुरू किया, उसी तरह से अब किसान आंदोलन भी बिहार से शुरू होगा. अब किसान और आत्महत्या नहीं करेगा.

  • 12:42(IST)

    आंदोलन में शामिल सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर ने कहा है कि इस आंदोलन को और बड़ा करेंगे, संघर्ष आगे भी जारी रहेगा, जिसमें दलित, किसान, आदिवासी और महिला किसान को भी साथ ला रहे हैं.

  • AmiteshAmitesh12:41 (IST)

    हमारे किसान चुप नहीं बैठेंगे. हम स्पेशल सेशन की मांग कर रहे हैं. किसानों की आत्महत्या का मुद्दा है, उनकी कर्जमाफी का मसला है, उनकी फसल के उचित मूल्य के लिए भी चर्चा की जरूरत है. सभी राजनीतिक दल से ये मांग है- राजू शेट्टी

  • AmiteshAmitesh12:37 (IST)

    स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के नेता और सांसद राजू शेट्टी ने किसान आंदोलन में कहा है कि आज तमिलनाडु के किसान नंगे हुए हैं. ये देश की नंगी तस्वीर दिखा रही है. ये आवाज हमारी गूंगी,बहरी और अंधी संसद को सुनाई देगी.

  • 12:37(IST)

    स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के नेता और सांसद राजू शेट्टी ने किसान आंदोलन में कहा है कि आज तमिलनाडु के किसान नंगे हुए हैं. ये देश की नंगी तस्वीर दिखा रही है. ये आवाज हमारी गूंगी,बहरी और अंधी संसद को सुनाई देगी.

  • 12:36(IST)

    स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के नेता और सांसद राजू शेट्टी ने किसान आंदोलन में कहा है कि आज तमिलनाडु के किसान नंगे हुए हैं. ये देश की नंगी तस्वीर दिखा रही है. ये आवाज हमारी गूंगी,बहरी और अंधी संसद को सुनाई देगी.

  • 12:33(IST)

    दिल्ली के पांच गुरुद्वारों ने किसानों को अपना समर्थन दिया है. बड़ी तादाद में छात्र भी उनके समर्थन में हैं. महिलाएं किसान आंदोलन में हिस्सा ले रही हैं.

दिल्ली किसान आंदोलन: केंद्र की फसल बीमा योजना किसानों के साथ धोखाधड़ी- अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के रामलीला मैदान में इकट्ठा हुए हजारों किसान शुक्रवार को संसद भवन तक मार्च करेंगे. किसानों की मांग है कि उन्हें कर्ज से मुक्ति और कृषि उत्पाद लागत का डेढ़ गुना न्यूनतम समर्थन मूल्य मुहैया कराया जाए. करीब 200 किसान संगठनों के आह्वान पर ये आंदोलन आयोजित किया गया है. अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति द्वारा 29 और 30 नवंबर को आहूत संसद मार्च को वाम दलों सहित 21 राजनीतिक दलों का समर्थन हासिल है.

कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के शामिल होने की संभावना

समिति के संयोजक हन्नान मोल्लाह ने बताया कि शुक्रवार को किसानों का हुजूम रामलीला मैदान से संसद मार्च करेगा. अखिल भारतीय किसान सभा के सचिव अतुल कुमार अंजान ने बताया कि शुक्रवार को संसद मार्ग पर आयोजित किसान सभा में आंदोलन का समर्थन कर रहे विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता शिरकत करेंगे. इनमें आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के भी शामिल होने की संभावना है.

देर शाम तक रामलीला मैदान पहुंचते रहे लोग

अंजान ने बताया कि शुक्रवार को दो सत्रों में आयोजित किसान सभा के पहले सत्र में किसान नेता आंदोलन के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इसके बाद दूसरे सत्र में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता किसानों को संबोधित करेंगे. किसानों की मांग को लेकर दो दिवसीय आंदोलन के पहले दिन गुरुवार को किसानों के साथ डॉक्टर, वकील, पूर्व सैनिक, पेशेवर और छात्रों सहित समाज के तमाम वर्गों के लोगों के समूह भी रामलीला मैदान में एकत्र हुए. देश के अलग-अलग हिस्सों से दिल्ली के प्रवेश मार्गों पर एकत्र होकर आंदोलनकारियों का रामलीला मैदान तक पैदल और वाहनों से पहुंचने का सिलसिला देर शाम तक जारी रहा.

सुरक्षा के व्यापक इंतजाम

आंदोलन में जुट रही भीड़ को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं. पुलिस ने बताया कि गुरुवार को रामलीला मैदान में पुलिसबल तैनात किया गया था. साथ ही शुक्रवार को रामलीला मैदान से संसद मार्ग तक किसान मार्च करेंगे इसे लेकर भी सुरक्षा और यातायात के विशेष प्रबंध किए गए हैं. पुलिस ने कहा कि किसानों के मार्च के दौरान सड़कों के दोनों तरफ रस्सी होगी और दूसरी तरफ पुलिस तैनात होगी ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि यातायात प्रभावित नहीं हो.

(एजेंसी से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi