S M L

दिल्ली: पुलिस के भेष में लुटेरे विदेशियों को लगातार बना रहे हैं अपना निशाना

पुलिस के मुताबिक पुलिसवाले के भेष में ऐसे लुटेरे दिल्ली में नए नहीं हैं. पहले भी समय-समय पर ऐसी घटनाएं सामने आती रही हैं

Updated On: Dec 16, 2018 01:03 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली: पुलिस के भेष में लुटेरे विदेशियों को लगातार बना रहे हैं अपना निशाना

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में खुद को पुलिसकर्मी बता कर इलाज के लिए आए विदेशियों से लूट-पाट का मामला सामने आया है. पुलिस के मुताबिक ये बदमाश शहर के मेदांता और फोर्टिस अस्पताल के इर्द-गिर्द तलाशी लेने का नाटक करते हुए यहां इलाज कराने पहुंचे विदेशियों को लूटते हैं. इस इलाके में कई गेस्टहाउस और होटल भी हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर अनुसार पुलिस ने कहा कि बीते तीन महीने में लूटपाट की ऐसे चार मामले समने आए हैं. पुलिस कमिशनर के के राव ने कहा कि हमने इन ठगों को पकड़ने के लिए विशेष टीम का गठन किया है. पुलिस के मुताबिक बदमाश कार और बाइक पर सिविल ड्रेस में विदेशियों से उनके पासपोर्ट के बारे में पूछते हैं. जब पासपोर्ट निकालने के लिए ये विदेशी अपना बैग खोलते हैं, तो बदमाश उनके डॉलर लूटकर चले जाते हैं. इस दौरान विदेशियों को अपने साथ घटित हुई इस घटना का पता नहीं चलता. जब दोबारा उनकी नजर बैग पर जाती है, तब उन्हें इस बात का एहसास होता है कि वह लूट लिए गए हैं.

पहले भी ऐसे मामले आते रहे हैं सामने

अभी हाल ही एक मामला सामने आया जिसमें तुर्कमेनिस्तान के रहने वाले शुकूर शुकूरो का 7 हजार डॉलर, लूटेरे लूटकर चंपत हो गए. बीते शुक्रवार जब वह अपने गेस्टहाउस से निकलकर अपनी बच्ची से मिलने मेदांता अस्पताल की ओर जा रहा था, तभी एक कार में सवार दो लोगों ने खुद को पुलिस बताकर उसके पैसे लूट लिए. ऐसा ही एक मामला अक्टूबर में सामने आया था. चार लूटेरों ने ईराकी मूल के एक शख्स का 1000 डॉलर लूट लिया था.

हुस्सैन अब्दुल अमीर अली कैंसर के मरीज हैं. इलाज के लिए मेदांता अस्पताल पहुंते थे. दवाई खरीदने के रास्ते में पुलिसवालों के भेष में चार लूटेरों ने उन्हें लूट लिया. जुलाई में भी ईराकी मूल के एक शख्स का 3000 डॉलर लूट लिया गया था. वहीं इसी महीने की 7 तारीख को ईराक के रहने वाले अब्दुल सट्टर का 5,400 डॉलर लूट गया.

वैसे पुलिसवाले के भेष में ऐसे लुटेरे दिल्ली में नए नहीं हैं. पहले भी ऐसी घटनाएं सामने आती रही हैं. ये लुटेरे पूर्व में ज्वेलरी दुकानों को अपना निशाना बनाते थे. पिछले साल पुलिस ने ऐसे मामलों को अंजाम देने वाले ईरानी गैंग को गिरफ्तार किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi