S M L

EXCLUSIVE: PNB घोटाले में नीरव मोदी के फर्जीवाड़े, शेयर गड़बड़ियों के मिले सबूत

आयकर विभाग की रिपोर्ट में नीरव मोदी की फायरस्टार डायमंड इंटरनेशनल कंपनी की रिपोर्ट में उसके काले कारनामों से जुड़े तमाम सबूत दर्ज हैं

Yatish Yadav Updated On: Feb 20, 2018 01:03 PM IST

0
EXCLUSIVE: PNB घोटाले में नीरव मोदी के फर्जीवाड़े, शेयर गड़बड़ियों के मिले सबूत

11,400 करोड़ के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले के सूत्रधार नीरव मोदी और उसके सहयोगियों के गड़े राज एक-एक कर बाहर आ रहे हैं. इसमें सबसे हालिया पिछले साल फायर स्टार डायमंड इंटरनेशनल (नीरव मोदी की कंपनी) पर आयकर विभाग की रिपोर्ट है. इस रिपोर्ट की एक एक्सक्लूसिव कॉपी फ़र्स्टपोस्ट के पास है.

रिपोर्ट के मुताबिक, 'नीरव मोदी समूह के अकाउंट को देखने से पता चलता है कि वो ग्राहकों से आभूषणों/हीरों की बिक्री के बदले तय सीमा से अधिक 'पैसे/कैश' स्वीकार कर रहा है. जांच के दौरान, इस बात के सबूत के तौर पर डिजिटल आंकड़े और कई कर्मचारियों के बयान लिए गए हैं. इसमें शामिल नीरव मोदी समूह के कर्मचारियों की हर स्तर पर जांच की गई और उनके दर्ज बयान में इस बात की शपथ ली गई कि उन्होंने भुगतान के लिए पैसे/कैश स्वीकार किया था. जुटाए गए इन सबूतों को नीरव मोदी के सामने पेश किया गया जिस पर वो कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सके. कुल मिलाकर 158.49 करोड़ रुपए 'कैश' के तौर पर समूह द्वारा लिए गए थे.'

इसके अलावा, रिपोर्ट में कहा गया, 'जांच के दैरान, यह पाया गया कि नीरव मोदी एक विदेशी ट्रस्ट के लाभार्थी हैं. यह ट्रस्ट जर्सी में मोंटे क्रिस्टो ट्रस्ट है. छापेमारी में ट्रस्ट के मूल दस्तावेज को समूह के एक कर्मचारी के लॉकर से जब्त किया गया.'

रिपोर्ट में स्टॉक और शेयर गड़बड़ियों का भी जिक्र है- 'रिपोर्ट में डीडीआईटी ने SEZ यूनिटों के शेयर मूल्यांकन में अंतर का पता लगाते हुए वित्तीय वर्ष 2017-18 में की गई 1,216 करोड़ रुपए का हेरफेर उजागर किया है. मुंबई जेम्स एंड डायमंड्स के डायरेक्टर विजय राठौड़ ने कहा कि कंपनी कमीशन के आधार पर आवास आवेदन दाखिल कराने के काम में शामिल है और वह कोई वास्तविक कारोबार नहीं कर रही है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कर्मचारियों को भारी बोनस दिया जाता था- समूह द्वारा रूस में फायरस्टार डायमंड लिमिटेड में काम कर रहे कर्मचारियों को हर साल लगभग 60 लाख रुपए बोनस के रूप में कैश दिया जाता था.

इस रिपोर्ट में नीरव मोदी के संबंधित बैंक खातों और जब्त की गई संपत्तियों की सूची भी शामिल है.

Nirav Modi I-T report

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi