S M L

अब बिना मेडिकल सर्टिफिकेट के निकाल सकेंगे पीएफ से पैसा

पीएफ प्रोफार्मा में बदलाव के लिए कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952 में संशोधन किया गया है

Updated On: Apr 27, 2017 10:32 PM IST

Bhasha

0
अब बिना मेडिकल सर्टिफिकेट के निकाल सकेंगे पीएफ से पैसा

ईपीएफओ के चार करोड़ से अधिक सदस्य अपने ईपीएफ खाते से बीमारी के इलाज और विकलांगता से निपटने के लिए उपकरण खरीदने को लेकर पैसा निकाल सकते हैं. इसके लिए उन्हें मेडिकल सर्टिफिकेट देने की आवश्यकता नहीं होगी.

बीमारी के इलाज और शारीरिक रूप से विकलांग होने की स्थिति में उपकरण खरीदने को लेकर भविष्य निधि खाते से पैसा निकालने में आसानी होगी. पीएफ से पैसा निकालने के लिए विभिन्न प्रकार के सर्टिफिकेट जमा करने की जरूरत को समाप्त कर दिया है.

अब पीएफ प्रोफार्मा में बदलाव के लिए कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952 में संशोधन किया गया है. अब शेयरहोल्डर इकट्ठे कर फॉर्म का उपयोग कर और स्व-घोषणा के जरिए विभिन्न आधार पर ईपीएफ खाते से कोष निकाल सकते हैं.

इससे पहले सर्टिफिकेट की जरूरत होती थी

एक वरिष्ठ अधिकारी ने गुरुवार को कहा, ‘श्रम मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952 के 68-जे और 68-एन में संशोधन किया है ताकि अंशधारक बीमारी के इलाज और शारीरिक रूप से विकलांग होने की स्थिति में उपकरण खरीदने को लेकर भविष्य निधि से धन निकाल सके. इस धन को रिफंड करने की जरूरत नहीं होगी.’

अबतक ईपीएफओ अंशधारक ईपीएफ योजना के उपबंध 68-जे का इस्तेमाल कर अपने और अपने ऊपर आश्रित की बीमारी के इलाज के लिए धन निकाल सकते हैं.

लेकिन इसके लिये नियोक्ता या कर्मचारी से सर्टिफिकेट की जरूरत होती थी कि सदस्य या उस पर आश्रित व्यक्ति कर्मचारी राज्य बीमा योजना और उसके लाभ के दायरे में नहीं आता. साथ ही सदस्यों को डॉक्टर से सर्टिफिकेट लेकर भी देना होता था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi