live
S M L

चुनाव आयोग की खुली चुनौती, 3 जून से पार्टियां हैक करके दिखाएं ईवीएम

ईसी ने कहा है कि हर राजनीतिक दल को मशीन हैक करने के लिए चार घंटे का समय दिया जाएगा

Updated On: May 20, 2017 06:36 PM IST

FP Staff

0
चुनाव आयोग की खुली चुनौती, 3 जून से पार्टियां हैक करके दिखाएं ईवीएम

चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक दलों को ईवीएम हैक करने की चुनौती दे दी है. आयोग ने शनिवार को सभी पार्टियों से कहा है कि वो 3 जून से ईवीएम हैक करके दिखाएं.

ईसी ने कहा है कि हर राजनीतिक दल को मशीन हैक करने के लिए चार घंटे का समय दिया जाएगा. शनिवार को चुनाव आयोग ने ईवीएम का डेमो करके दिखाया और दावा किया कि ईवीएम से छेड़छाड़ नहीं की जा सकती.

चुनाव आयोग ने कहा कि वो यह मौका इसलिए दे रही ताकि ईवीएम की विश्वसनीयता पर उठ रहे सवाल खत्म हो जाएं. चुनाव आयोग ने कहा कि इस चैलेंज के द्वारा ईवीएम वोटिंग पर जनता का भरोसा बढ़ेगा.

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव और दिल्ली एमसीडी चुनाव के बाद आम आदमी पार्टी सहित कई अन्य पार्टियां इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को हैक किए जाने की संभावना पर सवाल उठा रही हैं.

इन्हीं आरोपों को गलत साबित करने के लिए चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को खुली चुनौती देने की तैयारी कर ली है.

विधानसभा चुनावों में इस्तेमाल हुए ईवीएम को हैक करने की चुनौती 

गौरतलब है कि मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने 12 मई को इस मुद्दे पर राजनीतिक पार्टियों के साथ बैठक की थी, बैठक के बाद ऐलान किया गया था कि पार्टियों को अपने आरोपों को सही साबित करने का मौका दिया जाएगा.

इससे पहले आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि राजनीतिक दलों को 29 मई के बाद कभी भी ईवीएम में गड़बड़ी साबित करने की चुनौती दी जा सकती है.

अधिकारी ने बताया कि सभी सात राष्ट्रीय दल और 48 राज्य स्तरीय दलों को खुली चुनौती में हिस्सा लेने के लिये बुलाया जाएगा.

इस ओपन चैलेंज में सभी इच्छुक दलों को हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों के किसी भी मतदान केंद्र की मशीन के साथ छेड़छाड़ करने का मौका दिया जाएगा.

चुनौती स्वीकार करने के लिए राजनीतिक दलों को एक सप्ताह का मौका दिया जाएगा. इसके बाद दावा करने वाले दलों को इसके लिए अलग-अलग मौका दिया जाएगा.

साभार: न्यूज़18 हिंदी 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi