S M L

ईडी के हवाले 3700 करोड़ रुपए का ऑनलाइन स्कैम

ईडी ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Feb 05, 2017 02:53 PM IST

0
ईडी के हवाले 3700 करोड़ रुपए का ऑनलाइन स्कैम

3700 करोड़ रुपए ठगी घोटाले की जांच अब प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के हाथ में आ गई है. ईडी ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

एब्लेज इंफो सोल्यूशन नाम की पर 6.5 लाख लोगों के पैसे ठगने का आरोप है. दो फरवरी को एब्लेज इंफो सोल्यूशन के डायरेक्टर अनुभव मित्तल सहित तीन लोगों को यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों ने यूपी एसटीएफ से अब तक किए जांच का पूरा ब्योरा ले लिया है. ईडी के लखनऊ ऑफिस में कंपनी के सारे रिकॉर्ड्स को स्केन किया जा रहा है.

अब अनुभव की 'गर्दन' एसटीएफ के हाथ में

आयकर विभाग और कॉरपोरेट अफेयर्स मंत्रालय की सीरियस फ्रॉड इन्वेस्टीगेशन टीम पहले से ही जांच में शामिल है. कंपनी के मालिक अनुभव मित्तल, सीइओ श्रीधर प्रसाद और टेक्निकल हेड महेश दयाल की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है.

इधर, यूपी एसटीएफ को लगातार ऑनलाइन शिकायतें मिल रही हैं. यूपी एसटीएफ ने ठगी के शिकार हुए लोगों के लिए एक ऑनलाइन ईमेल आईडी जारी की थी. इस ईमेल आईडी पर लोगों की भारी संख्या में शिकायतें मिल रही हैं.

यूपी एसटीएफ का कहना है कि इस ईमेल पर प्रति मिनट तीन से पांच शिकायतें मिल रही हैं. अभी तक यह संख्या 4 हजार को पार कर गई है. देश के कई राज्यों में कंपनी पर एफआईआर भी दर्ज हो रही हैं.

विदेशों से भी कई शिकायतें आ रही है. सिंगापुर, इंडोनेशिया, नाइजीरिया, दुबई और मस्कट से भी सैकड़ों शिकायतें मिल रही हैं.

अनुभव मित्तल (फोटो: फ्राईहब की फेसबुक से)

अनुभव मित्तल (फोटो: फ्राईहब की फेसबुक से)

पिछले दो दिनों से आयकर विभाग और साइबर एक्सपर्ट की कई टीमें नोएडा और गाजियाबाद में अनुभव मित्तल के ठिकाने पर लगातार छापेमारी कर रही हैं.

एसटीएफ की जांच के दायरे में अनुभव मित्तल के अलावा उसके पिता सुनील मित्तल और पत्नी आयुषी अग्रवाल भी आ गई हैं. एसटीएफ के मुताबिक अनुभव के पिता के भी इस साजिश में शामिल होने के कुछ सुराग हाथ लगे हैं.

हालांकि, अनुभव मित्तल को उसके घरवालों ने तीन साल पहले ही कागजों पर बेदखल कर दिया था. यह बेदखल इसलिए किया गया था कि आगे अगर कोई कानूनी पेंच में अनुभव फंसता है तो परिवार वाले उससे बच निकलें.

यह भी पढ़ें: अनुभव मित्तल की अनसुनी कहानी, कानून के लंबे हाथ का होगा इम्तिहान

लेकिन, एसटीएफ का कहना है कि अगर इस तरह की बात थी तो कंपनी में उसके पिता और पत्नी निदेशक के रुप में कैसे काम कर रहे थे?

अनुभव के खातों की भी जांच हो रही है

आयकर विभाग की कई टीमें अनुभव मित्तल के बैंक अकाउंट को खंगाल रही हैं. पिछले तीन साल में हुए पैसों के ट्रांसफर का लेखा-जोखा तैयार किया जा रहा है. अनुभव मित्तल के गाजियाबाद के कोटक महिंद्रा बैंक, यस बैंक, एक्सिस बैंक और केनरा बैंक के कई खातों की पड़ताल की जा रही है.

आयकर विभाग को अनुभव मित्तल के केनरा बैंक में 480 करोड़ और यस बैंक में 44 करोड़ रुपए मिले हैं.

अनुभव मित्तल के केस के बाद देश की कई ऐसे बेनामी सोशल ट्रेंड कंपनियों पर सरकार की नजर पड़ गई है. दिल्ली-एनसीआर के कई सोशल ट्रेंड चलानी वाली कंपनियों में अफरा-तफरी मच गई है.

गुपचुप तरीके से चलाए जा रहे इन कंपनियों पर जांच एजेंसी इनके कामकाज व लेन-देन की निगरानी करने के साथ पूरा ब्योरा खंगालने में लग गई है.

एब्लेज इंफो सोल्यूशन का फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद ऐसी और कंपनियों में निवेश करने वाले लोग कंपनी के दफ्तरों में पहुंचने लगे हैं. लोगों को डर सता रहा है कि कंपनी संचालकों के भागने या फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद उनके खून पसीने की कमाई कहीं डूब न जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi