S M L

संबंध बेहतर करने की दिशा में भारत, चीन ने बढ़ाया एक और कदम

चीन के विदेश मंत्री वांग यी नई व्यवस्था के तहत पहली बैठक में शामिल होने के लिए चार दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार की सुबह भारत पहुंचे

Updated On: Dec 21, 2018 04:00 PM IST

Bhasha

0
संबंध बेहतर करने की दिशा में भारत, चीन ने बढ़ाया एक और कदम

चीन के विदेश मंत्री वांग यी नई व्यवस्था के तहत पहली बैठक में शामिल होने के लिए चार दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार की सुबह भारत पहुंचे. संबंध बेहतर करने की दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और वांग यी ने दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक सरोकार और जनता के बीच संपर्क बढ़ाने की खातिर हाल में स्थापित नई व्यवस्था के तहत गहन चर्चा की.

चीनी विदेश मंत्री वांग यी के साथ बातचीत के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि लोगों का लोगों से संपर्क बढ़ाने और सांस्कृतिक संबंधों को गति देने के बारे में हमारे बीच दो घंटे तक बातचीत हुई. उन्होंने कहा कि मुलाकात बेहद सफल रही. भारत-चीन संबंधों के इतिहास में सांस्कृतिक आदान प्रदान और जनता के बीच सरोकार एक महत्वपूर्ण पहल है. भारत-चीन संबंध नए ऐतिहासिक चरण में पहुंच गए हैं.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि चीनी विदेश मंत्री के साथ बातचीत के निष्कर्ष से मैं संतुष्ट हूं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच हुए वुहान शिखर सम्मेलन के बाद द्विपक्षीय सहयोग में महत्वपूर्ण सुधार आया है. दोनों देशों की सेनाएं भी सहयोग बढ़ा रही हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच अप्रैल में अनौपचारिक सम्मेलन में इस व्यवस्था पर सहमति बनी थी. मोदी ने लिखित संदेश में 'संस्कृति और जनता के बीच सरोकार की उच्च स्तरीय प्रणाली' के तहत दोनों पक्षों के बीच वार्ता पर प्रसन्नता जाहिर की थी. उन्होंने कहा था कि समसामयिक दौर में हमारे लोगों के बीच लेनदेन तथा संपर्क बढ़ने के साथ पुरातन संबंध भी तरोताजा हुए हैं. आपको बता दें कि डोकलाम गतिरोध के बाद से दोनों देश संबंध सुधारने के प्रयास कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi