S M L

जुलाई 2019 से बदल जाएगा आपका DL और RC, ये होंगे नए फीचर्स

इन स्मार्ट डीएल और आरसी में माइक्रो चिप व क्यूआर कोड होंगे, साथ ही इन कार्ड्स में मेट्रो और एटीएम कार्ड्स की तरह नियरफील्ड कम्युनिकेशन (NFC) भी होगा जिससे ट्रैफिक पुलिस को कार्ड में मौजूद सूचना तुरंत मिल जाएगी

Updated On: Oct 14, 2018 01:19 PM IST

FP Staff

0
जुलाई 2019 से बदल जाएगा आपका DL और RC, ये होंगे नए फीचर्स

अगले जुलाई से सभी प्रदेशों और केंद्र शासित राज्यों से जारी होने वाले नए ड्राइविंग लाइसेंस और वीकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट्स (आरसी) एक जैसे ही होंगे. इनके रंग, लुक, डिजाइन और सिक्योरिटी फीचर्स सब सेम होंगे. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक इन स्मार्ट डीएल और आरसी में माइक्रो चिप व क्यूआर कोड होंगे. इन कार्ड्स में मेट्रो और एटीएम कार्ड्स की तरह नियरफील्ड कम्युनिकेशन (NFC) भी होगा जिससे ट्रैफिक पुलिस को कार्ड में मौजूद सूचना तुरंत मिल जाएगी. अगर ड्राइवर ने अंगदान किया है तो नए डीएल में इसकी भी जानकारी होगी. इसके अलावा अगर ड्राइवर, दिव्यांग लोगों के लिए खास तौर पर डिजाइन की गई गाड़ी चला रहा/रही है, तो यह सूचना भी डीएल में दर्ज होगी.

नए डीएल या आरसी में 15-20 रुपए से अधिक का खर्च नहीं होगा

प्रदूषण नियंत्रण में सहूलियत के लिए गाड़ी के इमिशन की सारी जानकारी भी आरसी में मौजूद होगी. सड़क व परिवहन मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि फिलहाल अभी अगर कोई शख्स पॉल्यूशन टेस्ट करवाना चाहता है तो उसे गाड़ी के मालिक से इस संबंध में सारी जानकारी लेनी पड़ती है. आपको बता दें कि देश में रोजाना करीब 32000 डीएल या तो इशू होते हैं या रीन्यू किए जाते हैं. इसी तरह रोजाना करीब 43000 गाड़ियां रजिस्टर या रीरजिस्टर होती हैं. इस नए डीएल या आरसी में 15-20 रुपए से अधिक का खर्च नहीं होगा.

गाड़ी और ड्राइवर की सभी डिटेल्स मिल जाएंगी

ट्रांसपोर्ट मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक इस बदलाव से ट्रैफिक का जिम्मा संभालने के जिम्मेदारों को भी सहूलियत होगी. उन्हें इससे गाड़ी और ड्राइवर की सभी डिटेल्स मिल जाएंगी. ट्रांसपोर्ट मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रैफिक पुलिस अपने पास मौजूद डिवाइस में नए कार्ड को डालते ही या क्यूआर कोड को स्कैन करते ही सारी डिटेल हासिल कर सकेंगे. कार्ड में मौजूद NFC फीचर से इसकी सारी जानकारियों को तुरंत देखा जा सकेगा. इसमें गाड़ियां और ड्राइवर के सेंट्रल डेटा बेस में पहले से दर्ज जानकारियां भी शामिल रहेंगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi