Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

एम्स के नए निदेशक बने रणदीप गुलेरिया

डॉ. रणदीप गुलेरिया पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किए जा चुके है

IANS Updated On: Mar 25, 2017 12:01 AM IST

0
एम्स के नए निदेशक बने रणदीप गुलेरिया

प्रमुख पल्मोनोलॉजिस्ट रणदीप गुलेरिया को शुक्रवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली का नया निदेशक नियुक्त किया गया.

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि गुलेरिया उन शीर्ष तीन दावेदारों में शामिल थे, जिनके नाम मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति के पास इस पद के लिए भेजे गए थे. गुलेरिया पल्मोनरी मेडिसीन एंड स्लीप डिसआर्डर विभाग के प्रमुख हैं.

वे एम्स के पल्मोनरी मेडिसिन (फेफड़े से संबंधित रोगों) के विभागाध्यक्ष हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली कैबिनेट की नियुक्ति संबंधी समिति (एसीसी) ने उन्हें पांच साल के लिए एम्स का निदेशक नियुक्त किया है.

डॉ. गुलेरिया पल्मोनरी मेडिसिन और क्रिटिकल केयर में सुपर स्पेशियलिटी डिग्री डीएम (डॉक्टरेट ऑफ मेडिसिन) हासिल करने वाले देश के पहले डॉक्टर हैं. सांस की बीमारियों व फेफड़े के कैंसर के इलाज व शोध में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है.

वे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का भी इलाज कर चुके हैं.

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित गुलेरिया को एम्स में देश का पहला पल्मोनरी मेडिसीन एंड स्लीप डिसआर्डर सेंटर स्थापित करने का श्रेय दिया जाता है.

बयान में कहा गया, 'एसीसी ने पल्मोनरी मेडिसिन एंड स्लीप डिसआर्डर विभाग के प्रोफेसर और प्रमुख रणदीप गुलेरिया को नई दिल्ली एम्स के निदेशक पद पर नियुक्ति के लिए मंजूरी दे दी है.'

गुलेरिया पांच साल तक पद पर बने रहेंगे. प्रोफेसर एम.सी. मिश्रा इस साल 31 जनवरी को एम्स के निदेशक पद से सेवानिवृत्त हुए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi