S M L

डोकलाम पर चीन की दगाबाजी, तैनात किए 1,000 सैनिक

भारत और चीन की सेनाओं के बीच डोकलाम में 16 जून से 73 दिन तक गतिरोध की स्थिति बनी रही थी. एक बार फिर चीन ने अपने सैनिकों को बॉर्डर के नजदीक तैनात कर दिया है

Updated On: Oct 06, 2017 09:57 AM IST

FP Staff

0
डोकलाम पर चीन की दगाबाजी, तैनात किए 1,000 सैनिक

डोकलाम पर एक बार फिर विवाद की सुगबुगाहट तेज हो गई है. चीन फिर अपना दोहरा रवैया अपना रहा है. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक सिक्किम बॉर्डर पर हाईअलर्ट जारी हो गया है. डोकलाम के निकट करीब 1,000 चीनी सैनिकों ने डेरा जमा लिया है. यह डेरा बॉर्डर से कुछ ही मीटर की दूरी पर है.

इंडियन एक्सप्रेस को सरकारी सूत्रों ने बताया, क्षेत्र में तनाव घटाने के लिए सैनिकों को वापस बुलाना शुरू हो गया था, लेकिन अभी भी विवादित क्षेत्र से 800 मीटर दूर एक चाइनीज बटालियन मौजूद है.

सूत्रों ने अखबार को बताया कि चीन अपने सैनिकों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ा रहा है, जिससे स्थिति और बिगड़ सकती है.

चीनी सैनिक चुंबी घाटी में मौजूद हैं. यह घाटी पहाड़ी पर मौजूद है. एयर चीफ मार्शल बी.एस धनोआ ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की पुष्टि भी की.

सेना प्रमुख ने कहा, 'दोनों पक्ष सीधे तौर पर आमने-सामने नहीं हैं. हालांकि चुंबी घाटी में अब भी उनके जवान तैनात हैं और मैं आशा करता हूं कि वे वापस चले जाएंगे क्योंकि इलाके में उनका अभ्यास पूरा हो गया है.'

डोकलाम को लेकर चीन और भूटान के बीच क्षेत्रीय विवाद रहा है और भारत इस मुद्दे पर भूटान का समर्थन कर रहा है.

भारत और चीन की सेनाओं के बीच डोकलाम में 16 जून से 73 दिन तक गतिरोध की स्थिति बनी रही थी. इससे पहले भारत की सेना ने चीन की सेना द्वारा विवादित क्षेत्र में एक सड़क के निर्माण पर रोक लगा दी थी.

गतिरोध के दौरान भूटान और भारत एक दूसरे से संपर्क में रहे जो गत 28 अगस्त को समाप्त हुआ.

इस तरह की भी खबरें हैं कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने यातुंग में अग्रिम चौकी पर सैनिकों की संख्या और बढ़ा दी है.

सूत्रों के मुताबिक डोकलाम पठार में चीन के सैनिकों को तैनात किया गया है लेकिन सर्दियों में वे इलाका छोड़कर चले जाते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi