S M L

चुनाव आयोग ने दी सफाई, कहा- नवंबर तक मिल जाएंगी सभी वीवीपैट मशीनें

मीडिया रिपोर्ट पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा चुनाव आयोग ने कहा कि मशीनों की आपूर्ति इस साल 30 सितंबर तक हो जानी थी लेकिन तकनीकी विशेषज्ञों के सुझाव पर मशीनों में कुछ जरूरी सुधार शामिल किए जाने के कारण इसमें थोड़ा विलंब होगा

Bhasha Updated On: Jul 25, 2018 06:42 PM IST

0
चुनाव आयोग ने दी सफाई, कहा- नवंबर तक मिल जाएंगी सभी वीवीपैट मशीनें

चुनाव आयोग ने अगले साल प्रस्तावित लोकसभा चुनाव वीवीपैट युक्त ईवीएम से कराने का विश्वास व्यक्त करते हुए कहा है कि इस साल नवंबर तक निर्माणाधीन 16.15 लाख वीवीपैट युक्त मशीनों की आपूर्ति हो जाएगी. आयोग ने बुधवार को मशीनों की अब तक महज 22 प्रतिशत आपूर्ति ही हो पाने संबंधी मीडिया रिपोर्ट पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि इन मशीनों की आपूर्ति इस साल 30 सितंबर तक हो जानी थी. लेकिन आयोग के तकनीकी विशेषज्ञों की समिति के सुझाव पर मशीनों में कुछ जरूरी सुधार शामिल किए जाने के कारण इसमें थोड़ा विलंब होगा.

आयोग ने इसके बावजूद नवंबर 2018 में चुनाव पूर्व तैयारियों को पूरा करने की समयसीमा पूरी होने के पहले इन मशीनों की आपूर्ति कर दिए जाने का विश्वास व्यक्त किया. आयोग द्वारा जारी आधिकारिक बयान के अनुसार, सार्वजनिक क्षेत्र की बेंगलुरु स्थित कंपनी भारत इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड (बीईएल) और हैदराबाद स्थित इलेक्ट्रॉनिक्स कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (ईसीआईएल) को मई 2017 में 16.15 लाख मशीनें बनाने की जिम्मेदारी दी थी.

इनमें से 5.88 लाख मशीनों (बीईएल 4.36 लाख, ईसीआईएल 1.52 लाख) की आपूर्ति अब तक कर दी गयी है. यह कुल आपूर्ति का 36 प्रतिशत है.

आयोग ने स्पष्ट किया कि बुधवार को प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट 19 जून की आरटीआई के जवाब पर आधारित है. आयोग ने कहा कि दोनों कंपनियों ने शेष 10.27 लाख मशीनों का निर्माण और सभी राज्यों को इनकी आपूर्ति इस साल नवंबर से पहले करने के लिए आश्वस्त किया है.

इसके आधार पर आयोग ने भविष्य में आम चुनाव के अलावा लोकसभा और विधानसभाओं के उपचुनाव शतप्रतिशत वीवीपैट युक्त ईवीएम से कराने की प्रतिबद्धता व्यक्त की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi