S M L

नवंबर-दिसंबर में शादियों के मुहूर्त का अकाल, वेडिंग बिजनेस से जुड़े लोगों को उठाना पड़ेगा नुकसान

बता दें कि ज्योतिषों ने 2019 के जनवरी फरवरी महीने को शादी के लिए शुभ माना है तो इस साल होने वाली ज्यादातर शादियां अब अगले साल होंगी

Updated On: Jul 12, 2018 12:49 PM IST

FP Staff

0
नवंबर-दिसंबर में शादियों के मुहूर्त का अकाल, वेडिंग बिजनेस से जुड़े लोगों को उठाना पड़ेगा नुकसान

हिन्दू धर्म में होने वाली शादियों में 'शुभ मुहूर्त' की बहुत बड़ी अहमियत है. अगर शुभ दिन या शुभ मुहूर्त ना मिले तो होने वाली शादी कई-कई महीनों तक टाल दी जाती है. आमतौर पर हमारे देश में होने वाली ज्यादातर शादियां शुभ मुहूर्त के इंतजार में नवंबर दिसंबर के महीने में होती हैं. गर्मी, बरसात और ठंड के सीजन जैसा ही साल का यह अंतिम दो महीना शादियों का सीजन का होता है.

ज्योतिषों की माने तो आमतौर पर नवंबर दिसंबर का महीना शादी के लिए सबसे शुभ होता है लेकिन इस साल शादी का यह सीजन अगले साल शिफ्ट हो गया है. हिन्दू कैलेंडर के अनुसार इस साल 19 नवंबर की तारीख से पहले कोई भी शादी नहीं हो सकती. 19 के बाद भी दिसंबर तक केवल 7 दिन ही शादी के लिए शुभ माने जा रहे हैं. 23 से 26 नवंबर और 11 से 13 दिसंबर. करीब 20 साल बाद ग्रहों में ऐसे बदलाव हुए हैं.

शादी से जुड़े सारे व्यवसाय को भुगतना होगा खामियाजा

हिन्दुस्तान टाइम्स की खबर अनुसार इस साल शादी की शुभ मुहूर्तों में कमी होने का खामियाजा ना ही केवल शादी करने वाले जोड़े को उठाना पड़ेगा, बल्कि शादी से जुड़े सारे व्यवसाय जैसे वेडिंग हॉल, कैटरर,वेडिंग प्लानर, फैशन डिजाइनर आदी को भी उठाना पड़ेगा. प्रदेश की जिन वेडिंग हॉल में एडवांस बुकिंग चलती थी, वहां अभी तक एक भी शादी की बुकिंग नहीं हुई है.

वहीं केटरिंग का बिजनेस करने वाले एक शख्स का कहना है कि चूंकि इस साल शादी का सीजन अगले साल शिफ्ट हो गया है, हर साल होने वाली कमाई की तुलना में इस साल हमारी कमाई एक तिहाई कम होगी.

फैशन डिजाइनर के पास शादी के कपड़े खरीदने के बजाए त्योहार के कपड़े खरीदने की भीड़ लगी है. अनुमान लगाया जा रहा है कि शादी की मुहूर्त अगले साल शिफ्ट होने से शादी से जुड़े व्यवसायों को इस साल बहुत नुकसान झेलना पड़ सकता है.

बता दें कि ज्योतिषों ने 2019 के जनवरी फरवरी महीने को शादी के लिए शुभ माना है तो इस साल होने वाली ज्यादातर शादियां अब अगले साल होंगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi