S M L

2005 ब्लास्ट आरोपियों पर नए सिरे से हो सकती है कार्रवाई

धमाके में 67 लोगों की मौत हो गयी थी और 225 से अधिक लोग घायल हो हुए थे

Updated On: Feb 17, 2017 08:54 AM IST

Bhasha

0
2005 ब्लास्ट आरोपियों पर नए सिरे से हो सकती है कार्रवाई

साल 2005 में दिवाली से दो दिन पहले दिल्ली में हुए विस्फोट मामले में दो लोगों को दिल्ली की एक अदालत द्वारा बरी किए जाने के बाद दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा आगे की कार्रवाई पर विचार कर रही है.

इस आत्मघाती हमले में 67 लोगों की मौत हुई थी.

स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘हमें आदेश की प्रति नहीं मिली है. आदेश की कॉपी पढ़ने के बाद हम निर्णय लेंगे कि हाई कोर्ट में मामले को आगे बढ़ाया जाए या नहीं.’

अधिकारियों ने बताया कि इस तरह के मामलों में आरोपी को दोषी साबित करना मुश्किल है.

29 अक्तूबर 2005 को सरोजनीनगर, पहाड़गंज और कालकाजी में बम विस्फोट हुआ था जिसमें 67 लोगों की मौत हो गयी थी और 225 से अधिक लोग घायल हो हुए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi