S M L

दिल्ली प्रदूषण: प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने केवल एक दिन में वसूला 83 लाख से भी ज्यादा जुर्माना

केंद्रीय प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को बीते 4 दिनों में 500 से भी अधिक शिकायत मिल चुकी है

Updated On: Nov 05, 2018 04:16 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली प्रदूषण: प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने केवल एक दिन में वसूला 83 लाख से भी ज्यादा जुर्माना
Loading...

दिल्ली में प्रदूषण गतिविधियों की निगरानी रखने और तत्काल कार्रवाई करने के लिए केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने 1-10 नवंबर तक क्लीन एयर कैंपेन चलाई है.सीपीसीबी के 52 निगरानी दल सप्ताह में 5 दिन शहरों का औचक निरीक्षण कर रहे हैं. इस दौरान नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने के साथ-साथ जुर्माना भी वसूला जा रहा है.

केंद्रीय प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को बीते 4 दिनों में 500 से भी अधिक शिकायत मिल चुकी है. सबसे अधिक शिकायत अवैध निर्माण और विध्वंस गतिविधियों को लेकर किया गया है.केवल रविवार को 368 शिकायत दर्ज किए गए और करीब 83 लाख से अधिक जुर्माना लिया जा चुका है.

प्रदूषण पर काबू पाने के लिए दिल्ली-एनसीआर में निर्माण कार्यों पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया. साथ ही साथ खुदाई के काम पर भी रोक लगा दी गई है. इसके अलावा कूड़ा जलाने पर भी बैन लगाया गया है. वहीं जो इन नियमों का उल्लंघन करता पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की जाएगी. आइए जानते हैं दिल्ली में प्रदूषण को रोकने के लिए क्या कुछ करना पड़ा है बंद...

सीपीसीबी के फेसबुक/ट्विटर अकाउंट पर जानकारी दे सकते हैं जानकारी

सर्दियों के मौसम में निर्माण कार्य के कारण वायु की गुणवत्ता का स्तर और गिर जाता है. क्योंकि इस मौसम हवा की गति धीमी होने की वजह से वायु प्रदूषण का स्तर तेजी से बढ़ने लगता है. इसी के कारण डीपीसीसी ने दिल्ली-एनसीआर में सभी तरह के निर्माण और खुदाई के कार्यों पर रोक लगाई है. सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में कार्यरत पर्यावरण प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने कई निर्देश भी जारी किए हैं. ईपीसीए ने कहा है कि हमे ये सुनिश्चित करना होगा कि कूड़ा न जलाया जाए. अगर कोई ऐसा करता है तो इसके बारे में आप सीपीसीबी के फेसबुक/ट्विटर अकाउंट पर जानकारी दे सकते हैं.

10 साल पुरानी डीजल गाड़ियां जब्त

क्लीन एयर कैंपेन के तहत दिल्ली में 1 नवंबर से 10 साल पुरानी डीजल और 15 साल पुरानी पेट्रोल गाड़ियां जब्त की जा रही हैं. दिल्ली प्रदूषण कंट्रोल कमेटी (डीपीसीसी) ने ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट और ट्रैफिक पुलिस से उन वाहनों की चेकिंग और तेज करने को कहा है जो ज्यादा प्रदूषण फैला रही हैं. साथ ही ट्रैफिक पुलिस से ये भी कहा गया है कि वो 1 से 10 नवंबर के बीच ट्रैफिक के कारण लगने वाले जाम को कंट्रोल करें.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi