S M L

दिल्ली: हवा की गुणवत्ता गंभीर, सुबह 6 से शाम 6 बजे तक ही भारी वाहनों का प्रवेश

दिल्ली में प्रदूषण स्तर बढ़ने के कारण हवा की गुणवत्ता सोमवार शाम को फिर से गंभीर हो गई

Updated On: Nov 13, 2018 11:09 AM IST

FP Staff

0
दिल्ली: हवा की गुणवत्ता गंभीर, सुबह 6 से शाम 6 बजे तक ही भारी वाहनों का प्रवेश

दिल्ली में प्रदूषण स्तर बढ़ने के कारण हवा की गुणवत्ता सोमवार शाम को फिर से गंभीर हो गई. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के एक कार्यबल ने केवल सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक ही शहर में भारी वाहनों के प्रवेश और निर्माण कार्य की गतिविधि चलाने की सिफारिश की है.

हजारों ट्रक फंसे

सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त ईपीसीए ने केवल उन वाहनों को शहर में प्रवेश की इजाजत दी है जो दिल्ली की सीमा पर फंसे हैं. शहर के बाहर एक हजार से ज्यादा ट्रकों के फंसे होने की स्थिति को देखते हुए यह इजाजत दी गई है. साथ ही कहा गया है कि 12 नवंबर को रात 11 बजे से 13 नवंबर को सुबह सात बजे तक उन्हें टोल या पर्यावरण हर्जाना राशि (ईसीसी) चुकाने से भी छूट होगी.

हालांकि, पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने कहा है कि हवा की खराब होती गुणवत्ता के कारण शहर में नए ट्रकों के प्रवेश की इजाजत नहीं होगी. भारी वाहनों के प्रवेश पर 8 नवंबर से 11 नवंबर तक रोक लगाई गयी थी, लेकिन सीपीसीबी के कार्यबल ने इसे एक दिन के लिए बढ़ा दिया था. दिल्ली में हवा की गुणवत्ता सोमवार की शाम फिर से गंभीर श्रेणी में पहुंच गई. हवा की कम रफ्तार आदि प्रतिकूल मौसमी परिस्थितियों से प्रदूषण स्तर बढ़ने के कारण ऐसा हुआ है.

प्रदूषण से लाचार दिल्ली

सीपीसीबी के डेटा के मुताबिक, एयर क्वालिटी इंडेक्स 407 दर्ज किया गया जो 'गंभीर' श्रेणी में आता है. वहीं मंगलवार को दिल्ली के लोधी रोड इलाके में पीएम 10 का स्तर 286 और पीएम 2.5 का स्तर 373 दर्ज किया गया. AQI में ये 'बेहद खराब' की श्रेणी में आता है. वहीं सोमवार को दिल्ली की हवा में पीएम 2.5 का स्तर 262 दर्ज किया गया था, जबकि पीएम 10 का स्तर 460 दर्ज किया गया था.

सीपीसीबी के मुताबिक, दिल्ली के 19 इलाकों में वायु गुणवत्ता 'गंभीर' दर्ज की गई जबकि 17 स्थानों पर यह 'बेहद खराब' श्रेणी में रही. गाजियाबाद, फरीदाबाद, ग्रेटर नोएडा और नोएडा में हवा की गुणवत्ता गंभीर रही जबकि गुड़गांव में स्थिति में थोड़ा सुधार देखने को मिला है. वहां पर सोमवार को गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में दर्ज की गई. बहरहाल, सीपीसीबी नेतृत्व वाले कार्यबल ने सोमवार को कहा कि दिल्ली में भारी वाहनों और निर्माण गतिविधि की इजाजत सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक के लिए ही होगी.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi