S M L

मेजर की पत्नी का मर्डर: आरोपी निखिल की जुबानी, शैलजा की हत्या की पूरी कहानी

दिल्ली पुलिस ने फरार निखिल को उसके मोबाइल लोकेशन से ट्रेस कर यूपी के मेरठ कैंटोनमेंट इलाके से गिरफ्तार किया

Updated On: Jun 25, 2018 12:30 PM IST

FP Staff

0
मेजर की पत्नी का मर्डर: आरोपी निखिल की जुबानी, शैलजा की हत्या की पूरी कहानी
Loading...

अपने साथी मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी शैलजा की हत्या के आरोप में गिरफ्तार 40 वर्षीय निखिल राज हांडा बेहद शातिर दिमाग है. लेकिन उसकी यह सारी चालाकी धरी की धरी रह गई. दिल्ली पुलिस ने फरार निखिल को उसके मोबाइल लोकेशन से ट्रेस कर रविवार को यूपी के मेरठ से गिरफ्तार किया.

पुलिस ने बताया कि शनिवार सुबह निखिल ने शैलजा की हत्या करने के बाद उसकी लाश को दिल्ली कैंट मेट्रो स्टेशन के पास फेंक दिया. इसके बाद वो वहां से फरार हो गया लेकिन फिर वो अपराध स्थल पर लौटकर आया लेकिन पुलिस की मौजूदगी देखकर वो मेरठ फरार हो गया.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार पुलिस ने बताया कि दिन में भी यह इलाका खाली और सुनसान रहता है. इसलिए शैलजा की लाश पर जल्दी किसी का ध्यान नहीं गया. दोपहर के लगभग डेढ़ बजे, वहां से गुजर रहे एक वॉटर टैंकर के ड्राइवर ने खून से लथपथ शैलजा की लाश देखकर पीसीआर को कॉल कर इसकी सूचना दी.

जांच से जुड़े एक पुलिस अधिकारी का दावा कि शैलजा को मारने के बाद निखिल हांडा वहां स्थित आर्मी बेस अस्पताल गया. यहां उसका बेटा भर्ती है. दोपहर के लगभग 2 बजे वो अपराध स्थल पर वापस लौटा, लेकिन यहां पुलिस को देखकर निखिल दक्षिण दिल्ली के साकेत स्थित अपने घर भाग गया.

अधिकारी ने यह भी दावा किया कि 'घर पहुंचने पर निखिल के पिता ने उसके सिर पर चोट के निशाना देखा तो उन्होंने इसके बारे में पूछा. इसपर निखिल ने झूठ बोला कि उसका मामूली सड़क दुर्घटना हो गया है. उसी दिन शाम 5 बजे वो फिर से अस्पताल पहुंचा, यहां उसने शैलजा के पति अमित द्विवेदी और कुछ पुलिसकर्मियों को देखा.'

shailza dwiwedi

आरोपी निखिल हांडा शैलजा द्विवेदी से शादी करना चाहता था इसी को लेकर दोनों में अनबन चल रही थी

मोबाइल लोकेशन से मेरठ में ट्रेस हुआ आरोपी निखिल हांडा 

बहरहाल पुलिस ने कहा, निखिल हांडा को उसके घरवालों ने फोन कर बताया कि उसकी तलाश में कुछ पुलिसवाले घर आए हैं. उन्होंने दावा किया कि यह जान लेने के बाद निखिल भागकर चित्तरंजन पार्क में रहने वाले अपने अंकल के घर पहुंचा. जब उसे लगा कि पुलिस उसके पीछे है, तो वो यहां से भी फरार हो गया और मेरठ कैंटोनमेंट आ गया. निखिल पूर्व में यहां 3 साल तक तैनात रह चुका है.

पश्चिम दिल्ली के डीसीपी विजय कुमार ने कहा, अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज में निखिल हांडा वहां दिख रहा है. इससे ही पुलिस को उसपर शक हुआ. उन्होंने कहा कि वो ज्यादा देर तक यहां नहीं रहा क्योंकि उसने यहां अमित द्विवेदी को पुलिसकर्मियों के साथ देख लिया था. इसलिए उसने भागकर मेरठ जाना तय किया.

पुलिस के मुताबिक, शनिवार सुबह लगभग 11 बजे निखिल हांडा अस्पताल पहुंचा था. यहां उसने शैलजा को अपनी होंडा सिटी कार में बिठाया और उसे लेकर रिंग रोड गया. यहां उनके बीच गाड़ी में ही शादी की बात को लेकर बहस और झगड़ा होने लगी. इस दौरान तैश में आकर निखिल ने कथित तौर पर शैलजा की गला काटकर हत्या कर दी. बुरी तरह घायल शैलजा ने गाड़ी खोलकर भागने की कोशिश की लेकिन निखिल ने उसपर अपनी गाड़ी चढ़ा दी. निखिल का गुस्सा इतने पर भी शांत नहीं हुआ उसने कार को रिवर्स कर उसे दोबारा से कुचल दिया.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi