S M L

दिल्ली: ट्रिप पर जाने के लिए नहीं थे पैसे तो 9 दोस्तों ने मिलकर कर दी बुजुर्ग डॉक्टर की हत्या

बताया जा रहा है कि डॉक्टर की हत्या और उनके घर में लूटपाट का प्लान उनके कंपाउंडर ने बनाया था, जो नाबालिग भी था

Updated On: Nov 20, 2018 12:11 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली: ट्रिप पर जाने के लिए नहीं थे पैसे तो 9 दोस्तों ने मिलकर कर दी बुजुर्ग डॉक्टर की हत्या

अगर आप अपने दोस्तों के साथ किसी ट्रिप पर जाना चाहें और आपके मम्मी पापा आपको उस ट्रिप पर जाने की इजाजत न दें या फिर ट्रिप के लिए पैसे न दें तो आप क्या करेंगे? जवाब कई हो सकते हैं. लेकिन क्या आप ये सोच भी सकते हैं कि इसके लिए कोई शख्स किसी का खून कर दे?

दरअसल दिल्ली से एक मामला सामने आया है, जिसमें 9 दोस्तों ने केवल इसलिए एक बुजुर्ग डॉक्टर की हत्या कर दी क्योंकि उन्हें शिमला और कश्मीर के ट्रिप पर जाने के लिए पैसे चाहिए थे.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक इन 9 दोस्तों ने एक महीने की ट्रिप पर जाने का फैसला किया था. ट्रिप के लिए इनके पास सारी चीजों का इंतजाम था सिवाय पैसों के. परिवारवालों ने पैसे देने से इनकार कर दिया तो इनके खुराफाती दिमाग में इस अपराध को अंजाम देने का आइडिया आया. सभी दोस्तों ने पैसों का इंतजाम करने के लिए बुजुर्ग डॉक्टर को मारने का प्लान बनाया. इनमें से दो लोग पहले से ही डॉक्टर को जानते थे. डॉक्टर का नाम इकबाल मुकीम कासिम हताया जा रहा है, जो जहांगीरपुरी इलाके में रहते थे.

इन लोगों ने डॉक्टर को मारने का प्लान तब बनाया, जब उनकी बेटी जो कि स्कूल में टीचर हैं घर पर न हों. सोमवार को डॉक्टर की बेटी के स्कूल जाते ही 9 दोस्तों ने गला घोटकर डॉक्टर की हत्या कर दी और 11 लाख के कैश और ज्वेलरी लेकर फरार हो गए. हालांकि इससे पहले वो ट्रिप पर जाते पुलिसे ने उनमें से एक को धर दबोचा, जिसने बाद में पुलिस को अपने अन्य दोस्तो की जानकारी दी. पुलिस ने जानकारी क आधार पर बाकी आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया और चोरी की गई ज्यादातर चीजें भी बरामद कर ली है.

नाबालिग कंपाउंडर ने बनाया था प्लान

दूसरी तरफ अमर उजाला की रिपोर्ट के मुताबिक इस पूरी घटना में एक नया ऐंगल सामने आया है. बताया जा रहा है कि डॉक्टर की हत्या और उनके घर में लूटपाट का प्लान उनके कंपाउंडर ने बनाया था, जो नाबालिग भी था. बताया जा रहा है कि इस पूरे प्लान को उसने अपने 8 दोस्तों के साथ मिलकर अंजाम दिया. हैरानी वाली बात ये है कि इस मामले में एक आरोपी के माता-पिता को गिरफ्तार किया गया है. दरअसल डॉक्टर की गला घोटकर हत्या करने के बाद एक आरोपी अपने माता पिता को उसके हिस्से में आए पैसे और जेवरात सौंपकर अपने मामा के घर रहने चला गया था. पुलिस ने सीसीटीवी फुंटेज की मदद से आरोपी को पकड़ा जिसने बाद में अन्य आरोपियों की पहचान कराई.

इन 9 लोगों की पहचान रिज़ू रिज़वान, विशाल रावत, मोहम्मद अम्मार, संध्या रावत, राजू रावत, रियासत और अफरोज शामिल हैं. अफरोज नाबालिग बताया जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi