S M L

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग की टीम टेरर फंडिंग की जांच के लिए हरियाणा पहुंची

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग टीम हरियाणा के पलवल में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के जरिए स्थानीय मस्जिद को कथित रूप से टेरर फंडिंग के तथ्यों की जांच के लिए पहुंची.

Updated On: Oct 20, 2018 08:43 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग की टीम टेरर फंडिंग की जांच के लिए हरियाणा पहुंची
Loading...

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग (डीएमसी) की तीन सदस्यीय टीम पड़ोसी राज्य हरियाणा के पलवल में आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के जरिए स्थानीय मस्जिद को कथित रूप से टेरर फंडिंग के तथ्यों की जांच के लिए पहुंची. डीएमसी के अध्यक्ष जफरूल इस्लाम खान ने बताया कि टीम मस्जिद के विदेशी फंडिंग से संबंध में राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनआईए) के जरिए गिरफ्तार लोगों के परिवार से भी मुलाकात करेगी.

उन्होंने बताया कि टीम हरियाणा के पलवल में एक गांव में मस्जिद के निर्माण के लिए विदेशी फंडिंग के आरोपों के तथ्यों की जांच करेगी. टीम इस संबंध में गिरफ्तार लोगों के परिजनों से हजरत निजामुद्दीन क्षेत्र में लोगों से मुलाकात करेगी. इस टीम में औवेसी सुल्तान खान, सरदार गुरमिंदर सिंह माथरू और अबु बाकर साबिक शामिल हैं.

इस साल जुलाई में एनआईए ने पाकिस्तान स्थित आतंकवादी हफिज सईद के फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) से टेरर फंडिंग मॉड्यूल की जांच के लिए एक मामला दायर किया था. एनआईए ने इसमें मोहम्मद सलमान, मोहम्मद सलीम और साजिद अब्दुल वाणी को गिरफ्तार किया था. इन पर आरोप था कि इन सभी लोगों ने 26 सितंबर को लाहौर में स्थित फलाह-ए-इंसानियत (एफआईएफ) फाउंडेशन से आतंकी गतिविधियों के लिए पैसे लिए थे. एफआईएफ फाउंडेशन की स्थापना हाफिज सईद के जमात-उद-दावा ने की थी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi