S M L

दिल्ली: किराया बढ़ा तो 5 लाख लोगों ने छोड़ दिया मेट्रो में सफर करना

पिछले साल अक्टूबर में दिल्ली मेट्रो के किराए में बढ़ोत्तरी की गई थी, उसी के बाद से यात्रियों की संख्या लगातार घटती जा रही है

FP Staff Updated On: Jun 21, 2018 02:23 PM IST

0
दिल्ली: किराया बढ़ा तो 5 लाख लोगों ने छोड़ दिया मेट्रो में सफर करना

किराया वृद्धि के आठ महीने बाद भी दिल्ली मेट्रो में यात्रा करने वालों की संख्या में कोई सुधार नजर नहीं आ रहा है. राजधानी की लाइफ लाइन कही जाने वाली मेट्रो में इस साल पिछले साल के मुकाबले 5 लाख सवारियों की कमी देखी गई है.

आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक, भीषण गर्मी में भी मेट्रो यात्रियों को अपनी तरफ खींचने में नकाम रही है. मार्च, अप्रैल और मई में 2017 के मुकाबले यात्रियों की संख्या में 17 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई है. इसे एक चिंता का विषय बताते हुए दिल्ली के ट्रांसपोर्ट मंत्री कैलाश गहलोत ने यात्रियों की संख्या में कमी के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया.

इस साल मार्च और अप्रैल के महीने में 22 और 22.67 लाख लोगों ने रोजाना दिल्ली मेट्रो के पांच कॉरिडोर (येलो, ब्लू, ग्रीन, वॉयलेट और रेड लाइन) पर यात्रा की. मई में यह संख्या 22.5 लाख रही. पिछले साल इसी दौरान दिल्ली मेट्रो में 27.6 लाख (मार्च), 27.5 लाख (अप्रैल) और 26.5 लाख (मई) लोगों ने यात्रा की थी.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, पिछले साल सितंबर तक मेट्रो में यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही थी. जुलाई, अगस्त और सितंबर के महीने में रोजाना औसतन 29.6 लाख, 28.5 लाख और 27.4 लाख लोग यात्रा करते थे. अक्टूबर में दूसरी बार किराया बढ़ने के बाद यात्रियों की संख्या धड़ाम से नीचे गिर गई.

किराया बढ़ने के बाद नवंबर, दिसंबर जनवरी और फरवरी में रोजाना यात्रा करने वालों की संख्या 24.38 लाख, 22.71 लाख, 23.01 लाख और 22.18 लाख रही. यात्रियों की संख्या में गिरावट आने पर मेट्रो ने इसके लिए 'मौसमी बदलाव' और त्योहारों के कारण पड़ने वाली छुट्टियों को जिम्मेदार ठहराया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi