S M L

दिल्ली मेट्रो के आसपास अवैध धार्मिक ढांचों पर हाईकोर्ट सख्त

अदालत ने जमीन का मालिकाना हक रखने वाली डीडीए और नगर निकायों को नोटिस जारी कर स्थिति रिपोर्ट तलब की है

Updated On: Dec 10, 2017 11:27 AM IST

Bhasha

0
दिल्ली मेट्रो के आसपास अवैध धार्मिक ढांचों पर हाईकोर्ट सख्त

दिल्ली हाईकोर्ट ने मेट्रो स्टेशनों के आसपास स्थित अवैध धार्मिक ढांचों को हटाने को लेकर दायर की गई याचिका के संबंध में डीडीए और नगर निकायों से जवाब मांगा है.

कार्यवाहक चीफ जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सी हरिशंकर ने जमीन का मालिकाना हक रखने वाली एजेंसी और नगर निकायों को नोटिस जारी कर स्थिति रिपोर्ट (स्टेटस रिपोर्ट) तलब की है.

अदालत ने अधिकारियों से सार्वजनिक जमीन और मेट्रो स्टेशन के पास अतिक्रमण नहीं हो इसे सुनिश्चित करने को कहा है. अदालत ने एजेंसियों को निर्देश दिया है कि वह 10 अप्रैल को होने वाली अगली सुनवाई से पहले इस मामले में स्थिति रिपोर्ट दायर करें.

गैर-सरकारी संगठन फाइट फॉर ह्यूमन राइट्स ने इस संबंध में याचिका डाली थी.

याचिका में निर्माण विहार और सरिता विहार मेट्रो स्टेशन के नीचे स्थित अवैध धार्मिक ढांचे को तुरंत हटाने की मांग की गई थी. याचिका में आरोप लगाया गया था कि डिफेंस कालोनी में बस स्टॉप के निकट अवैध तरीके से मंदिर बनाया गया है.

इसमें कहा गया है कि अवैध ढांचों की वजह से पैदल यात्रियों और वाहनों को आने-जाने में दिक्कत होती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi