S M L

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा गरीबों की सुनवाई के लिए पुलिस के पास समय नहीं

पीठ ने कहा, ‘ये कहना बेहद खेदपूर्ण है कि आम आदमी की कोई सुनवाई नहीं है. अक्सर गरीब लोगों की शिकायतें अनसुनी रह जाती हैं

Bhasha Updated On: Dec 02, 2017 04:33 PM IST

0
दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा गरीबों की सुनवाई के लिए पुलिस के पास समय नहीं

दिल्ली हाईकोर्ट ने एक शख्स की शिकायत पर उचित कार्रवाई नहीं करने पर पुलिस की आलोचना की है. अदालत ने कहा कि ये बेदह खेदपूर्ण है कि गरीब लोगों की शिकायतें अनसुनी रह जाती हैं. इस शख्स ने अपनी पत्नी के लापता होने के बाद पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी.

जस्टिस विपिन सांधी और पी. एस. तेजी की पीठ ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त को आदेश दिया कि संबंधित पुलिस थाने के तत्कालीन थाना प्रभारी समेत जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए.

पीठ ‘गरीब लोगों’ की ओर से दायर की गई शिकायतों को लेकर पुलिस के रवैये के प्रति अलोचनात्मक थी.

अनसूनी रह जाती है गरीबों की शिकायत 

पीठ ने कहा, ‘ये कहना बेहद खेदपूर्ण है कि आम आदमी की कोई सुनवाई नहीं है. अक्सर गरीब लोगों की शिकायतें अनसुनी रह जाती हैं.’ इस मामले में याचिकाकर्ता निजी सुरक्षा गार्ड है, जो प्रतिमाह आठ से नौ हजार रूपए कमाता है.

पीठ ने कहा, ‘मौजूदा मामले में पुलिस ने अगर याचिकाकर्ता की शिकायत पर त्वरित कार्रवाई की होती तो स्थिति दूसरी हो सकती थी.’

पीठ ने कहा, ‘ये सीधे-सीधे पुलिस की तरफ से हुई लापरवाही है जो मौजूदा मामले में इस स्थिति के लिए जिम्मेदार है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi