S M L

सीबीआई हर हाल में वीरेंद्र देव दीक्षित को कोर्ट में पेश करे : दिल्ली हाईकोर्ट

देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी वीरेंद्र देव दीक्षित को खोजने में नाकाम रही है

Updated On: Jan 04, 2018 07:06 PM IST

Ravishankar Singh Ravishankar Singh

0
सीबीआई हर हाल में वीरेंद्र देव दीक्षित को कोर्ट में पेश करे : दिल्ली हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट ने एक आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के संचालक वीरेंद्र देव दीक्षित को कोर्ट में हाजिर नहीं किए जाने को लेकर सीबीआई से जवाब मांगा है. दिल्ली के विजय विहार सहित देश के कई राज्यों में आध्यात्मिक विश्वविद्यालय चलाने वाले वीरेंद्र देव दीक्षित को आज कोर्ट में पेश होना था.

गौरतलब है कि दिल्ली हाईकोर्ट ने अपनी पिछली सुनवाई में भी सीबीआई को वीरेंद्र देव दीक्षित को चार जनवरी तक पेश करने को कहा था. हाईकोर्ट ने गुरुवार को सीबीआई को लताड़ लगाते हुए इस मामले में जल्द जवाब देने को कहा है.

पिछले कई दिनों से देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई सहित देश के कई राज्यों की पुलिस बाबा को ढूंढने में नाकाम साबित हुई हैं. दो दिन पहले ही सीबीआई ने वीरेंद्र देव दीक्षित के खिलाफ बलात्कार के दो मामले सहित कुल तीन मामले दर्ज किए थे.

baba virendra dixit

वीरेंद्र देव दीक्षित पर कई महिलाओं और नाबालिग लड़कियों को अपने कई आश्रमों में बंधक बना कर रखने और उनका रेप करने का आरोप है. गौरतलब है कि दिल्ली हाईकोर्ट ने अपनी पिछली सुनवाई में कहा था कि दिल्ली स्थित विजय विहार इलाके के आश्रम पर लगभग 10 एफआईआर होने के बावजूद अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. इसलिए दिल्ली पुलिस पर विश्वास नहीं किया जा सकता है. अब इस मामले की जांच सीबीआई करेगी. दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर ही इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है.

पिछले साल के दिसंबर महीने के आखिरी सप्ताह में दिल्ली के विजय विहार इलाके के एक आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में यौन शोषण की शिकायत पर हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया था. हाईकोर्ट ने इस मामले को लेकर सबसे पहले दिल्ली पुलिस को आश्रम में छापा मारने को कहा था. बाद में मामला बड़ा होते देख दिल्ली हाईकोर्ट ने यह मामला सीबीआई को सौंप दिया था.

इसके बाद देशभर में बाबा के कई ठिकानों पर छापेमारी की गई थी. दिल्ली के करावल नगर, नांगलोई और द्वारका के साथ यूपी के आगरा, लखनऊ और फर्रुखाबाद में भी छापेमारी की गई थी. पुलिस की छापेमारी में पता चला था कि बलात्कारी बाबा के देश और विदेशों में लगभग 200 आश्रम हैं.

बाबा के आश्रमों में नाबालिग और बालिग लड़कियों के लगातार मिलने से दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने आशंका जाहिर की थी कि बाबा के तार मानव तस्कर गिरोहों से जुड़े हो सकते हैं. मालीवाल ने सीबीआई से मानव तस्करी एंगल से भी जांच कराने की बात कही थी.

16 हजार पत्नियां बनाने का इच्छुक था बाबा

खास बात यह है कि इस घटना के इतने दिनों के बाद भी देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी वीरेंद्र देव दीक्षित को खोजने में नाकाम रही है. दूसरी तरफ बाबा को लेकर हर रोज नई-नई बातें सुनने को मिल रही हैं.

एक तरफ तथाकथित बाबा को खोजने में सीबीआई को अभी तक नाकामी हाथ लगी हैं, वहीं खुद को बाबा बताने वाला वीरेंद्र देव दीक्षित को लेकर हर दिन तरह-तरह की कहानियां भी निकल कर सामने आ रही हैं. बाबा की 16 हजार पत्नियां बनाने से लेकर हर दिन 10 महिलाओं के साथ संबंध बनाने की बात सामने आई है.

baba1

बाबा के आश्रम से छुड़ाई गई कुछ लड़कियों का कहना है, ‘बाबा हर रोज 10 लड़कियों के साथ संबंध बनाता था. आश्रम में रहने वाली हर लड़की के मासिक धर्म के बारे में भी बाबा को पहले से पता रहता था. बाबा अपने साथ एक डायरी रखता था, जिसमें लड़कियों के मासिक धर्म की जानकारी होती थी. बाबा लड़कियों के साथ संबंध बनाने से पहले नशा करता था.’

पिछले दिनों बाबा की इस काली करतूत से राजस्थान की एक लड़की ने पर्दा उठाया था. राजस्थान की रहने वाली एक पीड़िता ने बाबा पर आरोप लगाया था कि आश्रम की लड़कियों की इज्जत के साथ बाबा खेलता था. पीड़िता की शिकायत पर जब दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो पीड़िता एक एनजीओ की मदद से हाईकोर्ट पहुंच गई.

पिछले साल 23 दिसंबर को हाईकोर्ट के निर्देश के बाद दिल्ली के विजय विहार इलाके में इस आध्यात्मिक विश्वविद्यालय पर बड़ी कार्रवाई हुई थी. इस कार्रवाई में लगभग 50 लड़कियों को छुड़ाया गया था. बाद में यूपी के फर्रूखाबाद में बाबा के एक आश्रम के तहखाने से एक लड़की को छुड़ाया गया था. अभी तक बाबा के कई ठिकानों से लगभग 150 महिलाओं, लड़कियों और नाबालिग लड़कियों को छुड़ाया जा चुका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi