S M L

क्या अब महिलाएं भी हो सकेंगी बॉर्डर पर तैनात?

मशहूर क्रिकेटर कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी भी इसी प्रादेशिक सेना के मानद अफसर हैं

FP Staff Updated On: Jan 05, 2018 04:34 PM IST

0
क्या अब महिलाएं भी हो सकेंगी बॉर्डर पर तैनात?

दिल्ली हाईकोर्ट ने शुक्रवार को प्रादेशिक सेना से संबंधित एक अहम आदेश दिया, जिसके बाद महिलाओं का प्रादेशिक सेना में भर्ती होने का सपना साकार हो सकता है.

जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सी हरिशंकर ने कहा कि टेरिटोरियल आर्मी एक्ट की धारा 6 में 'कोई भी व्यक्ति' का मतलब महिला और पुरुष दोनों से होना चाहिए.

कोर्ट ने आगे कहा कि ऐसा एक्ट जो महिलाओं को टेरिटोरियल आर्मी में भर्ती होने से रोकता है वो संविधान का उल्लंघन है.

कोर्ट का ये आदेश अधिवक्ता कुश कालरा की ओर से प्रादेशिक सेना में भर्ती को लेकर लैंगिक भेदभाव पर दायर की गई पीआईएल के संदर्भ में दिया था.

बता दें कि प्रादेशिक सेना, भारतीय सेना के बाद दूसरी सुरक्षा रेखा के तौर पर जानी जाती है. मशहूर क्रिकेटर कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी भी इसी प्रादेशिक सेना के मानद अफसर हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi