Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

हनीप्रीत को दिल्ली हाईकोर्ट से राहत नहीं, अग्रिम जमानत याचिका खारिज

माना जा रहा है कि जमानत अर्जी ख़ारिज होने के बाद हनीप्रीत बुधवार को सुप्रीम कोर्ट जा सकती है

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: Sep 26, 2017 08:38 PM IST

0
हनीप्रीत को दिल्ली हाईकोर्ट से राहत नहीं, अग्रिम जमानत याचिका खारिज

दिल्ली हाईकोर्ट ने गुरमीत राम रहीम की 'मुंहबोली बेटी' हनीप्रीत की जमानत याचिका खारिज कर दी है. हनीप्रीत ने मंगलवार को ही दिल्ली हाईकोर्ट में ट्रांजिट बेल देने की मांग की थी.

हनीप्रीत के वकील प्रदीप कुमार आर्य ने दिल्ली हाईकोर्ट में हनीप्रीत को तीन सप्ताह की ट्राजिंट बेल देने की मांग की थी. इससे पहले हरियाणा पुलिस के वकीलों ने हाईकोर्ट में हनीप्रीत को ट्रांजिट बेल खारिज करने की मांग की थी जिस पर हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था.

हनीप्रीत के वकील प्रदीप आर्य ने कोर्ट को बताया कि क्योंकि हनीप्रीत के पास दिल्ली में घर है और उसे गिरफ्तारी का डर था इसलिए दिल्ली हाईकोर्ट में भी वह अपील दाखिल कर सकती है. इसके बाद सुनवाई हुई और बाद में हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया.

चीफ जस्टिस गीता मित्तल ने हनीप्रीत के वकील प्रदीप आर्य से पूछा कि हनीप्रीत कहां है? जवाब में वकील ने कोर्ट से कहा कि हनीप्रीत की जान को खतरा है.

हनीप्रीत द्वारा दायर जमानत याचिका में कहा गया था कि उसकी जान को पंजाब और हरियाणा के ड्रग्स व्यापारियों से खतरा है. अर्जी में हनीप्रीत ने खुद को साफ सुथरा जीवन जीने वाली एक सिंगल महिला बताया है, जो कानून का पालन करती है और पुलिस जांच में सहयोग को तैयार है.

25 अगस्त से फरार है हनीप्रीत

दूसरी तरफ हरियाणा पुलिस के वकीलों का कहना था हनीप्रीत की अतीत काफी दागदार रहा है. यदि वह दिल्ली में है, तो उसे पुलिस को बताना चाहिए था. वकीलों का कहना था कि दिल्ली हनीप्रीत का न्यायिक क्षेत्र नहीं बनता है. उसका पासपोर्ट दिल्ली का नहीं है और उसका पता भी दिल्‍ली का नहीं है. इसलिए उसे ट्रांजिट बेल की याचिका हरियाणा-पंजाब हाईकोर्ट में दाखिल करनी चाहिए.

हाईकोर्ट में सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस के वकील ने भी अपना पक्ष रखा. दिल्‍ली पुलिस के वकील ने कहा कि हनीप्रीत गुरमीत राम रहीम की बेहद करीबी है. इसलिए हरियाणा पुलिस उसकी लगातार तलाश कर रही है. हनीप्रीत कानून की कोई मदद नहीं कर रही है. दिल्ली पुलिस ने दिल्ली हाईकोर्ट को भरोसा दिया कि हनीप्रीत को किसी भी तरह का नुकसान नहीं पहुंचने देगी.

ram rahim singh with honeypreet

हनीप्रीत 25 अगस्त के बाद से फरार चल रही है. डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को बलात्कार का दोषी ठहराए जाने के बाद न्यायिक हिरासत में ले लिया गया था. तब वह आखिरी बार राम रहीम के साथ रोहतक जेल में देखी गई थी.

हरियाणा पुलिस की कई टीमों ने भारत-नेपाल सीमा सहित पूरे देश में हनीप्रीत की तलाश की पर वह नहीं मिली.

देश-विदेश तक तलाश

एक तरफ जहां हनीप्रीत की तलाश देश से लेकर विदेशों तक की जा रही है वहीं हनीप्रीत सोमवार को दिल्ली में अपने वकील प्रदीप आर्या से बुर्के में मिली थी.

हनीप्रीत के वकील ने सोमवार को मीडिया से कहा था कि हनीप्रीत लाजपत नगर में उसके दफ्तर आई थी. हरियाणा पुलिस हनीप्रीत को भगोड़ा घोषित करने की तैयारी कर रही थी. इस बीच केस में नया ट्विस्ट आ गया.

बाबा राम रहीम की गिरफ्तार की बाद में पंचकूला में आगजनी और हिंसा हुई थी. हरियाणा पुलिस हनीप्रीत पर देशद्रोह और हिंसा फैलाने का आरोप है. हरियाणा पुलिस हनीप्रीत के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी कर रखा है. हरियाणा पुलिस का मानना है कि हनीप्रीत की गिरफ्तारी के बाद राम रहीम के और बड़े-बड़े राज उजागर होंगे.

हरियाणा पुलिस हनीप्रीत से लगातार आत्‍मसमर्पण करने की अपील भी कर रही थी. इस दौरान हनीप्रीत के बारे में मीडिया में कभी नेपाल तो कभी पाकिस्‍तान तो कभी चीन भागने की बात सामने आ रही थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi