विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

क्या महिलाएं और दोपहिया वाहन प्रदूषण नहीं फैलाते हैं: NGT

ऑड-ईवन मसले पर दिल्ली सरकार को वापस लेनी पड़ी रिव्यू पिटीशन

FP Staff Updated On: Nov 14, 2017 02:14 PM IST

0
क्या महिलाएं और दोपहिया वाहन प्रदूषण नहीं फैलाते हैं: NGT

दिल्ली में स्मॉग की समस्या से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार फिर से ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू करना चाहती थी. इसके लिए दिल्ली सरकार ने नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) में याचिका दाखिल की थी कि महिलाओं और दो पहिया वाहनों को इससे छूट मिले. जिसे शनिवार को एनजीटी ने खारिज कर दिया. जिसके बाद सरकार की तरफ से सोमवार को पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई और मंगलवार को इसे वापस भी ले लिया गया.

ऑड-ईवन से महिलाओं को छूट देने के मामले पर एनजीटी ने दिल्ली सरकार से पूछा कि क्यों न सिर्फ महिलाओं के लिए बस चलाकर इस समस्या से निपटा जाए. एनजीटी ने दिल्ली सरकार से तल्ख अंदाज में कहा कि जब आपको पता है कि दो पहिया वाहन चार पहिया वाहन से ज्यादा प्रदूषण फैलाते हैं तो आप इसमें छूट किस आधार पर मांग रहे हैं. इसी मसले पर एनजीटी ने कहा कि क्या यह मजाक है?

एनजीटी ने दिल्ली सरकार से कहा कि क्या आप बच्चों को संक्रमित लंग्स देना चाहते हैं. उन्हें मास्क पहनकर स्कूल जाना पड़ रहा है. आपको हिसाब से अब क्या हेल्थ इमरजेंसी हो सकता है. एनजीटी ने कहा कि सरकार को पीएम 2.5 और पीएम 10 के 48 घंटे तक खतरनाक स्तर से ऊपर रहने के बाद स्वतः ही इसके निवारण के लिए कुछ करना चाहिए था.

एनजीटी की तरफ से तल्ख टिप्पणियों और छूट नहीं मिलने के कारण ही दिल्ली सरकार ने अपनी याचिका को वापस ले लिया. बता दें कि दो पहिया वाहनों और महिलाओं को ऑड-ईवन से छूट मिलने पर यह योजना मंगलवार से लागू हो जाती.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi