विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

प्राइवेट स्कूलों को फीस बढ़ाने को लेकर दिल्ली सरकार को देने होंगे प्रस्ताव

शिक्षा निदेशालय (डीओई) ने निजी स्कूलों से 30 अप्रैल तक डीओई की वेबसाइट के जरिए प्रस्ताव देने को कहा है

Bhasha Updated On: Apr 07, 2017 11:45 PM IST

0
प्राइवेट स्कूलों को फीस बढ़ाने को लेकर दिल्ली सरकार को देने होंगे प्रस्ताव

दिल्ली सरकार ने डीडीए की जमीन पर चल रहे कम से कम 300 प्राइवेट स्कूलों को फीस नहीं बढ़ाने के निर्देश देने के कुछ ही सप्ताह बाद इन स्कूलों से फीस बढ़ाने पर प्रस्ताव मांगे हैं.
कब तक जमा कराने पड़ेंगे प्रस्ताव?

शिक्षा निदेशालय (डीओई) ने निजी स्कूलों से 30 अप्रैल तक डीओई की वेबसाइट के जरिए प्रस्ताव देने को कहा है.

स्कूलों को भेजी गई सूचना में कहा गया है, ‘डीओई स्कूलों द्वारा भेजे गए प्रस्तावों की जांच किसी अधिकारी या टीम से कराएगा. अगर किसी स्कूल ने कोई प्रस्ताव नहीं भेजा तो फिर वह ट्यूशन फीस नहीं बढ़ा सकेगा.

सूचना के अनुसार स्कूलों को तब तक फीस नहीं बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं जब तक उनके प्रस्तावों को विभाग से मंजूरी नहीं मिल जाती.

प्रस्ताव न जमा करवाए जाने पर की जाएगी कार्रवाई

इसमें कहा गया, ‘मंजूरी मिले बिना फीस बढ़ाए जाने के संबंध में किसी भी शिकायत को गंभीरता से लिया जाएगा और स्कूल इस कार्रवाई का जिम्मेदार होगा.’ स्कूलों को रसीदें, भुगतान खाता,आय व्यय खाता, बीते साल की बैलेंस शीट सहित सभी अहम दस्तावेज भी जमा कराने होंगे.

पिछले महिने सरकार ने डीडीए की जमीन पर चलने वाले कम से कम 300 निजी स्कूलों को आगामी शिक्षण सत्र में फीस नहीं बढ़ाने के निर्देश दिए थे. सरकार ने बचे हुए 1400 निजी स्कूलों को 10 प्रतिशत से अधिक फीस नहीं बढ़ाने के आदेश दिए थे.

सुप्रीम कोर्ट ने जनवरी में अपने एक आदेश में कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी में डीडीए से रियायती दरों पर जमीने पाए स्कूल सरकार से अनुमति लिए बगैर फीस नहीं बढ़ा सकते.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi