S M L

भिखारियों को पेशेवर ट्रेनिंग देने की तैयारी में दिल्ली सरकार

इस कार्यक्रम में नामांकन कराने वाले भिखारियों को सरकार हर दिन 250 रुपए भी देगी

FP Staff Updated On: Jun 03, 2018 04:43 PM IST

0
भिखारियों को पेशेवर ट्रेनिंग देने की तैयारी में  दिल्ली सरकार

दिल्ली सरकार भिखारियों के उत्थान के लिए एक नई योजना लाने जा रही है. दिल्ली के सामाजिक कल्याण विभाग ने गरीबी में रहने वाले लोगों के लिए व्यावसायिक कौशल विकास कार्यक्रम शुरू करने की योजना बना रही है.

इस योजना के तहत भिखारियों को आत्म निर्भर बनाने का काम किया जाएगा. भिखारियों को सिलाई, हस्तशिल्प और अन्य स्किल की ट्रेनिंग दी जाएगी ताकि वे गरिमा के साथ रह सकें और अपने बच्चों के लिए बेहतर भविष्य सुनिश्चित कर सकें. कार्यक्रम के लिए एक कैबिनेट नोट तैयार किया गया है जिसके अंतर्गत सरकारी भिखारी घरों में रहने वालों को प्रोफेशनल स्किल की ट्रेनिंग दी जाएगी. सामाजिक कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने कहा कि जल्द ही कैबिनेट के समक्ष इस योजना को पेश किया जाएगा.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, मंत्री गौतम ने कहा कि हम इस कार्यक्रम के लिए नामांकन करने वालों को हर दिन 250 रुपए देंगे. उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य उन्हें गरिमा और सम्मान का जीवन देना है. हम यह सुनिश्चित करेंगे कि वो दोबारा से भीख मांगने के काम में वापस न लौटें.

सामाजिक कल्याण विभाग की सचिव रश्मि कृष्णन ने कहा कि दर्जनों भिखारी दिल्ली सरकार के सरकारी घरों में सालों भर रहते हैं. यह विचार उन्हें अपने जीवन को बदलने का विकल्प देना है.

भिखारियों को ट्रेनिंग के दौरान पहचान पत्र दिया जाएगा सरकार को उम्मीद है कि इससे कार्यक्रम में शामिल होने के लिए कई अन्य प्रेरित होंगे. गौतम ने कहा कि ट्रेनिंग के बाद सिलाई मशीन देने का प्रस्ताव भी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi