S M L

दिल्ली सरकार का 'खुशी का पाठ्यक्रम' बनाएगा बच्चों को सर्व गुण संपन्न!

एलजी से चल रहे विवाद के खत्म होने के एक दिन बाद ही दिल्ली सरकार ने 'हैप्पीनैस करिकुलम' नाम की यह योजना लॉन्च की है

Updated On: Jun 20, 2018 08:55 PM IST

FP Staff

0
दिल्ली सरकार का 'खुशी का पाठ्यक्रम' बनाएगा बच्चों को सर्व गुण संपन्न!

दिल्ली सरकार बच्चों को काबिल बनाने के लिए नई तरकीबें अपना रही है. इसके तहत अब वह बच्चों को ध्यान लगाना, नैतिक मूल्य और मानसिक अभ्यास करना सिखाएंगे. ताकि बच्चे भविष्य में ऐसे पेशेवर और इंसान बनें जो समाज की सेवा करें और खुशियां बांटें.

एलजी से चल रहा विवाद खत्म होने के एक दिन बाद ही दिल्ली सरकार ने 'हैप्पीनैस करिकुलम' नाम की यह योजना लॉन्च की है. खुशी के इस पाठ्यक्रम में नर्सरी से कक्षा आठ तक के बच्चों को बेहतर इंसान बनने की सीख दी जाएगी. जिस से वह भविष्य में समाज में खुशियां बांट सकें. यह लगभग आठ लाख बच्चों पर जुलाई महीने से लागू होगा.

इस पाठ्यक्रम पर आखिरी फैसला लेने के बाद उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा आज से 10 साल बाद जब यह बच्चे डॉक्टर, इंजीनियर बनेंगे तो समाज में खुशियां बांटेंगे. मालूम हो कि सिसोदिया राज्य के शिक्षा मंत्री भी हैं. उन्होंने कहा कि हार्वड युनिवर्सिटी के अधिकारियों ने बताया कि वह ऐसे ही एक पाठ्यक्रम पर काम कर रहे हैं. लेकिन वह इतने बड़े स्तर पर नहीं कर सकते जितने पर दिल्ली सरकार सोच रही है. दिल्ली सरकार इसे लगभग 1,000 स्कूलों में लागू करने का सोच रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi