S M L

अस्पताल की मेडिकल लापरवाही की जांच करे दिल्ली सरकार: HC

एक गर्भवती महिला ने अरूणा आसिफ अली अस्पताल पर प्रसव पीड़ा से जूझने के बावजूद दाखिल नहीं करने का आरोप लगाते हुए दिल्ली हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल की है

Updated On: Jan 07, 2018 02:10 PM IST

Bhasha

0
अस्पताल की मेडिकल लापरवाही की जांच करे दिल्ली सरकार: HC

दिल्ली हाईकोर्ट ने आम आदमी पार्टी (आप) सरकार को निर्देश दिया है कि प्रसव पीड़ा से जूझ रही गर्भवती महिला को एडमिट (दाखिल करने) से इनकार करने वाले केस में जल्द कार्रवाई करे.

दरअसल दिल्ली में एक महिला को भर्ती नहीं करने की वजह से उसे घर लौटते समय ऑटोरिक्शा में बच्चे को जन्म देना पड़ा था. पिंकी नाम की इस गर्भवती महिला ने अरूणा आसिफ अली अस्पताल के खिलाफ मेडिकल लापरवाही का आरोप लगाया है.

जस्टिस विभू बख्रू ने महिला की याचिका पर दिल्ली सरकार और इसके स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग को यह निर्देश दिया है. महिला ने अस्पताल के खिलाफ 5 लाख रुपए के मुआवजे के लिए भी अर्जी दायर की है.

अदालत ने कहा कि अगर महिला के बताए तथ्य सही हैं तो मेडिकल लापरवाही को जांच का आधार बना कर जल्द से जल्द जांच कराई जाए.

महिला ने अपनी याचिका में दावा किया है कि प्रसव पीड़ा के बाद पिछले साल 17 नवंबर को सुबह करीब साढ़े 9 बजे वह अस्पताल गई थी. लेकिन ड्यूटी पर तैनात डॉक्टरों ने उसे एडमिट करने से इनकार करते हुए दर्द कम करने के इंजेक्शन लगा दिए, और कहा कि बच्चे को जन्म देने का अभी वक्त नहीं आया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi