S M L

दिल्ली की कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी के आरोपपत्र का संज्ञान लिया

कोर्ट ने कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दीक्षित पहले से ही जमानत पर है और उसे सुनवाई की अगली तारीख पर पेश होने के निर्देश दिए

Updated On: Jul 28, 2018 09:14 PM IST

Bhasha

0
दिल्ली की कोर्ट ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी के आरोपपत्र का संज्ञान लिया

दिल्ली की कोर्ट ने गुजरात की फार्मा कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड के निदेशक राजभूषण ओमप्रकाश दीक्षित के खिलाफ ईडी की तरफ से दायर आरोपपत्र का संज्ञान लिया है. मामला बैंक से पांच हजार करोड़ रुपए के ऋण धोखाधड़ी से जुड़ा हुआ है.

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सतीश अरोड़ा ने प्रवर्तन निदेशालय के विशेष लोक अभियोजक नितेश राणा की तरफ से दायर अंतिम रिपोर्ट का संज्ञान लिया और सुनवाई की अगली तारीख आठ अगस्त को आरोपी को तलब किया.

अदालत ने कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दीक्षित पहले से ही जमानत पर है और उसे सुनवाई की अगली तारीख पर पेश होने के निर्देश दिए.

आरोपपत्र में ईडी ने कंपनी पर आंध्रा बैंक नीत बैंक समूह से पांच हजार करोड़ रुपए ऋण लेने के आरोप लगाए जो गैर निष्पादित संपत्ति (एनपीए) में तब्दील हो गए.

वकील ए आर आदित्य के मार्फत दायर आरोपपत्र में दावा किया गया कि आरोपी ने मनी लॉन्ड्रिंग निवारण अधिनियम की धारा तीन और चार के तहत दंडनीय अपराध किए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi