S M L

केजरीवाल ने कहा- दिल्ली का मालिक हूं, कोई आतंकवादी नहीं

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर उपराज्यपाल अनिल बैजल पर हमला बोला

Updated On: Oct 05, 2017 09:40 AM IST

FP Staff

0
केजरीवाल ने कहा- दिल्ली का मालिक हूं, कोई आतंकवादी नहीं

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल पर हमला बोला है. दिल्ली गेस्ट टीचर्स को रेग्युलर कराने के फैसले पर उपराज्यपाल के आपत्ति जताए जाने पर केजरीवाल ने कहा, 'हमारे साथ ऐसा बर्ताव क्यों किया जाता है. मैं एक इलेक्टेड सीएम हूं, कोई आतंकवादी नहीं.'

केजरीवाल ने उपराज्यपाल पर निशाना साधते हुए कहा, "अधिकारियों के पीछे रहकर हमला करना बंद करें. मर्द के बच्चे हैं, तो सामने आकर राजनीति करें." केजरीवाल ने ये बातें दिल्ली विधानसभा में बुधवार को कही. 4 घंटे की चर्चा के बाद गेस्ट टीचर्स को रेग्युलर करने का बिल दिल्ली विधानसभा में पास कर दिया गया.

तिलमिलाए तेवर में नजर आए दिल्ली के सीएम

बुधवार को दिल्ली विधानसभा में केजरीवाल काफी तिलमिलाए नजर आए. उन्होंने कहा, 'दिल्ली ने कोई लॉ सेक्रेटरी नहीं चुना है, बल्कि सीएम चुना है. मैं सीएम हूं. उपराज्यपाल कहते हैं कि डिप्टी सीएम और सीएम को फाइल नहीं दिखाई जाएगी. ऐसा क्या है इन फाइलों में? उपराज्यपाल को क्या हम आतंकवादी नजर आते हैं?'

गेस्ट टीचर्स के बारे में दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह मुद्दा काफी अहम है. हमें टीचर्स को सम्मान और सुरक्षा देनी चाहिए. उनकी तरक्की के रास्ते में बाधा नहीं बनना चाहिए. इस मसले पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. केजरीवाल ने कहा कि अगर आम आदमी पार्टी और बीजेपी एक हो जाए, तो ये फैसला एक हफ्ते में लागू हो जाएगा.

उपराज्यपाल पर एक बार फिर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, 'देश ब्यूरोक्रेसी से नहीं, डेमोक्रेसी से चलता है. अधिकारियों से नहीं, बल्कि हम लोगों से देश चलता है. दिल्ली के हम मालिक हैं. अगर उपराज्यपाल को कोई आपत्ति है, तो उसे ठीक कराएं, लेकिन ऐसे बिल को रोक कर न रखें. ये अधिकारियों की बात कर रहे हैं, उन्हें इन्होंने डरा रखा है.'

नया कानून बनने पर गेस्ट टीचर्स को ये होंगे फायदे

स्कूलों में लंबे समय से अस्थायी तौर पर बच्चों को पढ़ा रहे गेस्ट टीचर्स को रेग्युलर किए जाने के बाद उन्हें 1300 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से वेतन मिलेगा. इसके तहत सरकार प्राइमरी शिक्षक (पीआरटी) को 700 रुपए प्रतिदिन की जगह करीब 32 हजार, ट्रेड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) को 800 रुपए प्रतिदिन के स्थान पर करीब 33 हजार और पोस्ट ग्रेजुएट टीचर (पीजीटी) को 900 रुपए प्रतिदिन के स्थान पर करीब 34 हजार रुपए प्रतिमाह वेतन मिलेगा.

इतना ही नहीं अब गेस्ट टीचरों को रविवार और अन्य छुट्टियां भी मिलेंगी. इसके लिए उनके वेतन में किसी तरह की कटौती नहीं की जाएगी. इससे 17 हजार गेस्ट टीचर्स को लाभ मिलेगा.

(साभार न्यूज18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi