S M L

सबरीमाला पर न्यायालय के फैसले से हिंदू धर्म और समावेशी होगा

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने सबरीमाला मंदिर से जुड़े उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हुए शुक्रवार को कहा कि इससे हिंदू धर्म के और समावेशी होने का मार्ग प्रशस्त हुआ है.

Updated On: Sep 28, 2018 01:58 PM IST

Bhasha

0
सबरीमाला पर न्यायालय के फैसले से हिंदू धर्म और समावेशी होगा

केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने सबरीमाला मंदिर से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए शुक्रवार को कहा कि इससे हिंदू धर्म के और समावेशी होने का मार्ग प्रशस्त हुआ है.

मेनका ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, 'यह बेहतरीन फैसला है. इससे हिंदू धर्म के और समावेशी होने की दिशा में आगे बढ़ने का रास्ता खुला है. धर्म किसी एक जाति और एक लिंग की संपत्ति नहीं है.'

कोर्ट ने शुक्रवार को अपने फैसले में केरल के सबरीमाला स्थित अय्यप्पा स्वामी मंदिर में सभी आयु-वर्ग की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति दे दी.

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय पीठ ने 4:1 के बहुमत के फैसले में कहा कि केरल के सबरीमाला मंदिर में रजस्वला आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लैंगिक भेदभाव है और यह परिपाटी हिंदू महिलाओं के अधिकारों का उल्लंघन करती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi