S M L

डार्विन थ्योरी विवाद: जावड़ेकर ने जूनियर मंत्री को ऐसी टिप्पणी से बचने को कहा

एचआरडी मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि उन्होंने अपने राज्य मंत्री को सलाह दी कि हमें विज्ञान को कमतर करने का प्रयास नहीं करना चाहिए

Updated On: Jan 23, 2018 07:02 PM IST

Bhasha

0
डार्विन थ्योरी विवाद: जावड़ेकर ने जूनियर मंत्री को ऐसी टिप्पणी से बचने को कहा
Loading...

एचआरडी मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि विज्ञान में शिथिलता नहीं आने दी जानी चाहिए और डार्विन के जैवविकास सिद्धांत को गलत साबित करने के लिए कोई कार्यक्रम करने की योजना नहीं है. उत्पत्ति पर चार्ल्स डार्विन के सिद्धांत को वैज्ञानिक रूप से गलत बताने वाले केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह को ऐसी टिप्पणी करने से बचने को कहा गया है. मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने अपने कनिष्ठ मंत्री को यह सलाह दी है .

जावड़ेकर ने कहा कि उन्होंने अपने मंत्रालय में राज्य मंत्री सत्यपाल सिंह से इस बारे में चर्चा की है और उनसे ऐसी टिप्पणी करने से बचने को कहा है .

उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने राज्य मंत्री को सलाह दी कि हमें विज्ञान को कमतर करने का प्रयास नहीं करना चाहिए.

एक सवाल के जवाब में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि डार्विन के सिद्धांत को गलत साबित करने के लिए हमारी ओर से कोई कार्यक्रम आयोजित करने की कोई योजना नहीं है .

जावड़ेकर ने कहा कि यह वैज्ञानिकों के अधिकार क्षेत्र का विषय है और उन्हें देश की प्रगति के लिए काम करने की पूरी छूट होनी चाहिए . हमें वैज्ञानिकों के प्रयासों पर पूरा भरोसा है.

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय मंत्री सत्यपाल सिंह ने हाल ही में मानव की उत्पत्ति पर चार्ल्स डार्विन के सिद्धांत को 'वैज्ञानिक रूप से गलत' बताया था .

मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री सिंह ने कहा था कि हमारे पूर्वजों ने कभी किसी वानर के इंसान बनने का उल्लेख नहीं किया है. उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत में कहा था कि (इंसानों के विकास संबंधी) चार्ल्स डार्विन का सिद्धांत वैज्ञानिक रूप से गलत है और इसे बदला जाना चाहिए.

एक कार्यक्रम में हिस्सा लेते हुए पूर्व आईपीएस अधिकारी ने कहा था कि हमारे किसी भी पूर्वज ने लिखित या मौखिक रूप में वानर से इंसान में बदलने का जिक्र नहीं किया था.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi