S M L

सहारनपुर में हुई हिंसा के विरोध में दलितों ने किया प्रदर्शन

प्रदर्शनकारियों ने मांग की कि नौ मई को दलितों के खिलाफ हिंसा करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए

Updated On: May 21, 2017 09:19 PM IST

Bhasha

0
सहारनपुर में हुई हिंसा के विरोध में दलितों ने किया प्रदर्शन

‘भीम आर्मी’ की अगुवाई में रविवार को हजारों दलित अधिकार कार्यकर्ता जंतर-मंतर पर इकट्ठा हुए और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में जाति आधारित हिंसा के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की.

दिल्ली पुलिस की ओर से इजाजत नहीं दिए जाने के बाद भी करीब 5,000 लोगों ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया.

प्रदर्शनकारियों ने मांग की कि नौ मई को दलितों के खिलाफ हिंसा करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए. उन्होंने यह मांग भी की कि प्रभावित परिवारों को 10 लाख रुपए मुआवजे के तौर पर दिए जाएं.

‘भीम आर्मी’ के संस्थापक चंद्रशेखर भी इस मौके पर मौजूद थे. उन पर सोशल मीडिया में एक आपत्तिजनक वीडियो साझा करने और सहारनपुर में सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने का आरोप है.

कार्यकर्ताओं ने मांग की कि चंद्रशेखर और अन्य दलित कार्यकर्ताओं के खिलाफ दर्ज प्राथमिकियां रद्द की जाएं और सहारनपुर में हुई झड़पों की न्यायिक जांच कराई जाए.

इस बीच, पुलिस ने प्रदर्शन स्थल पर सुरक्षा बढ़ा दी है. पुलिस ने बताया कि कार्यक्रम शांतिपूर्ण तरीके से हुआ.

सहारनपुर में पांच को शुरू हुई थीं हिंसक झड़पें

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘प्रदर्शनकारियों ने शुरू में कहा था कि करीब 50,000 लोग प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे, इसलिए अनुमति देने से इनकार कर दिया गया था.’

जंतर मंतर पर भीम आर्मी

जंतर मंतर पर भीम आर्मी

सहारनपुर के शब्बीरपुर गांव में पांच मई को उस वक्त झड़पें शुरू हो गई थीं जब गांव के कुछ दलित निवासियों ने ठाकुरों की ओर से राजपूत राजा महाराणा प्रताप की जयंती पर एक जुलूस निकालने की इजाजत देने से इनकार कर दिया था.

इसके बाद दलित समुदाय के लोगों ने शहर के गांधी उद्यान में नौ मई को एक महापंचायत करने की कोशिश की, ताकि पांच मई की झड़पों में प्रभावित हुए लोगों के लिए मुआवजे और राहत की मांग की जा सके, लेकिन जिला प्रशासन ने उन्हें महापंचायत आयोजित करने की अनुमति नहीं दी, जिसके कारण दलित समुदाय सड़कों पर उतर गया.

फिर हुई हिंसा में दलित प्रदर्शनकारियों ने शहर में कथित तौर पर एक पुलिस चौकी और एक दर्जन से ज्यादा बाइकों को आग के हवाले कर दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi