S M L

गेहूं नहीं काटने पर दलित को पिलाई पेशाब, पेड़ से बांधकर की पिटाई

सीताराम का आरोप है कि उसने दबंगों की फसल नहीं काटकर अपनी फसल काटी तो दबंगों ने उसकी मूंछ उखाड़ी और अपने जूते में पेशाब भरकर पिलाई

Updated On: Apr 30, 2018 10:22 PM IST

FP Staff

0
गेहूं नहीं काटने पर दलित को पिलाई पेशाब, पेड़ से बांधकर की पिटाई

बदायूं में दलित ने गांव के दबंगों पर मारपीट का गंभीर आरोप लगाया है. जिले के हजरतपुर थाना क्षेत्र के गांव आजमपुर निवासी सीताराम ने आईजी जोन बरेली को शिकायती पत्र में बताया है कि 24 अप्रैल को गांव के दबंगों ने उसे फसल कटाई के लिए कहा था लेकिन उसने उनकी फसल काटने से इनकार कर दिया.

सीताराम का आरोप है कि दबंगों को जब यह पता चला, 'मैंने अपनी गेहूं की फसल काटी और उनकी फसल नहीं काटी तो उन्होंने आकर मुझे पेड़ से बांध दिया. इसके बाद मेरी जूतों से पिटाई की.' इतना ही नहीं जब उसने विरोध किया तो आरोपियों ने उसकी मूंछ उखाड़ी और अपने जूते में पेशाब भरकर पिलाई.

पीड़ित के शिकायती पत्र के बाद IG ने एसएसपी से मामले की जानकारी लेकर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई का आदेश दिया है. वहीं थाना पुलिस ने आरोपी विजय सिंह, शिलेंद्र, विक्रम सिंह और पिंकू के खिलाफ एससीएसटी सहित संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है.

इस मामले में एसएसपी अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि दलित और गांव के लोगों में मार-पिटाई का मामला सामने आया था. जिसकी पुलिस ने जांच की. लेकिन ये मामला झूठा निकला. एसएसपी ने बताया कि बाद में दोबारा पिटाई का आरोप लगाया गया. इसके बाद दोनों पक्षों को थाने लाया गया था. एसएसपी का कहना है कि सीताराम की शिकायत के बाद मामला दर्ज करा दिया गया है. जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi