S M L

दाती महाराज केस: क्राइम ब्रांच ने 3 लोगों को समन किया

खुद को भगवान कहने वाले दाती ने इन तीनों लोगों के खिलाफ षड़यंत्र रचने का आरोप लगाया था.

FP Staff Updated On: Jun 23, 2018 08:40 PM IST

0
दाती महाराज केस: क्राइम ब्रांच ने 3 लोगों को समन किया

दाती महाराज रेप मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार को अपने ऑफिस में तीन लोगों को समन किया है. खुद को भगवान कहने वाले दाती ने इन तीनों लोगों के खिलाफ षड़यंत्र रचने का आरोप लगाया था.

बता दें कि स्वयंभू बाबा दाती मदन महाराज शुक्रवार को चाणक्यपुरी स्थित दिल्ली पुलिस के क्राइम ब्रांच ऑफिस पहुंचे थे. यहां उनसे पूछताछ की गई थी. इससे पहले बुधवार को उन्हें पुलिस ने पूछताछ के लिए बुलाया था और आगे की पूछताछ के लिए शुक्रवार को आने के लिए कहा था, इसी क्रम में वह शुक्रवार को दिल्ली पुलिस के क्राइम ब्रांच ऑफिस पहुंचे थे.

दाती महाराज के पहुंचते ही सीनियर ऑफिसर भी उनसे पूछताछ के लिए क्राइम ब्रांच के ऑफिस पहुंचे थे. इसमें उनपर लगे आरोपों के बारे में विस्तार से पूछताछ की गई थी. सवालों के जवाब के साथ उन्होंने अपना पक्ष भी पुलिस के सामने रखा था.

गौरतलब है कि दक्षिणी दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में एक युवती ने दाती महाराज के खिलाफ शिकायत दी थी. युवती ने पुलिस को बताया थी कि वह करीब पिछले दस सालों से महाराज की अनुयायी थी. लेकिन महाराज और चेलों द्वारा बार-बार बलात्कार किए जाने के बाद वह अपने घर राजस्थान लौट गई. जिसके बाद दाती महाराज के खिलाफ एफआई दर्ज कर ली गई. पीड़िता ने अपनी बात सबके सामने रखने के लिए एक पत्र भी लिखा था.

पीड़िता ने पत्र में लिखा था, 'आज आपसे उस संदर्भ में शिकायत करने जा रही हूं जिसे परिवार को खो देने के डर के कारण कभी कहने की हिम्मत ना कर सकी. लेकिन अब घुट-घुट कर नहीं जिया जाता. भले ही मेरी जान क्यों न चली जाए. जिसकी मुझे पूरी आशंका है. पर फिर भी मरने से पहले यह सच सबके सामने लाना चाहती हूं.'

'बड़ी हिम्मत से पत्र लिख रही हूं, लिखते वक्त हाथ कांप रहे हैं, मानो जैसे फिर से मेरे साथ वही सबकुछ दोबारा हो रहा हो. जिसके बारे में सोच कर भी डर लगता है. मुझे और मेरे परिवार को सुरक्षा प्रदान की जाए, ताकि में इस ढोंगी बाबा की सच्चाई सामने ला सकूं. अगर मुझे सुरक्षा नहीं दी गई तो यह तय है कि न मैं रहूंगी न मेरा परिवार. सब कुछ खत्म हो जाएगा. दाती मदनलाल बहुत ही खतरनाक है. अब तक मैं चुप इसलिए रही कि मुझे नहीं लगता था की मेरे माता-पिता मेरा साथ देंगे. लेकिन जब बर्दाश्त से बाहर हो गया तो ये घटना अपने मम्मी-पापा को बताई तब उन्होंने वचन दिया कि आखिरी सांस तक तुम्हारा साथ देंगे.'

पीड़िता ने लिखा, 'दाती मदनलाल राजस्थानी ने अपनी सहयोगी श्रद्धा उर्फ नीतू, अशोक,अर्जून, और नीमा जोशी के साथ मिलकर 9 जनवरी 2016 को दिल्ली स्थित आश्रम श्री शनि तीर्थ असोला फतेहपुर बेरी महरौली में मेरे साथ रेप किया.'

पीड़िता ने लिखा, 'यह तब हुआ जब मुझे चरण सेवा के लिए श्रद्धा, दाती मदनलाल राजस्थानी के पास लेकर गई. वहां मेरे साथ रेप किया. मेरे शरीर को हर तरह से नोचा गया. मुझे जबरन अपनी पेशाब पिलाते थे. अशोक अर्जुन और अनिल भी मेरे साथ ऐसा ही करते थे. इसके बाद यही चीजें मेरे साथ 26, 27 और 28 मार्च 2016 को राजस्थान में स्थित पाली के आश्रम में दाती मदनलाल ने दोहराई. जिसमे अनिल और श्रद्धा ने दाती मदनलाल का भरपूर साथ दिया. अनिल ने भी मेरे साथ ऐसा ही किया.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi