S M L

गाजा तूफान LIVE UPDATES: अब तक 11 लोगों की मौत, मृतकों के परिवार को दिए जाएंगे 10 लाख रुपए

मौसम विभाग की मानें तो अगले कुछ घंटों में गाजा तूफान तमिलनाडु के दूसरे जिलों में भी पहुंच सकता है, तूफान की संभावनाओं के मद्देनजर प्रशासन ने तटवर्ती इलाकों में रहने वाले लोगों को पहले ही सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया है

Updated On: Nov 16, 2018 02:49 PM IST

FP Staff

0
गाजा तूफान LIVE UPDATES: अब तक 11 लोगों की मौत, मृतकों के परिवार को दिए जाएंगे 10 लाख रुपए

अपडेट 5- सीएम के पलानीस्वामी ने कहा गाजा तूफान में अब तक सबसे ज्यादा नुकसान नागपट्टिनम जिले में हुआ है. राज्य में 471 रिलीफ कैंप बनाए गए हैं जिनमें 81,948 लोगों को ठहराया गया है. उन्होंने कहा कि वह राहत कार्य के लिए केंद्र सरकार से मदद ले रहे हैं.

अपडेट 4- तमिलनाडु के सीएम के पलानीस्वामी ने कहा कि प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक गाजा तूफान में 11 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्होंने कहा कि सरकार मरने वाले लोगों के परिवार को 10 लाख रुपए, घायलों को 1 लाख रुपए और हल्के रुप से घायल होने वाले पीड़ितों को 25 हजार रुपए मुआवजे के तौर पर देगी.

अपडेट 3- गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गाजा तूफान के बारे में कहा कि उन्होंने इस मामले में तमिलनाडु के सीएम के पलानीस्वामी से बात की और राज्य के तूफान प्रभावित इलाकों के बारे में पूरी जानकारी ली है. उन्होंने सीएम को आश्वासन दिया कि केंद्र की तरफ से राज्य के लोगों के लिए इस हालात से निपटने के लिए हर जरूरी मदद की जाएगी.

अपडेट 2- डिजास्टर मैनेजमेंट ऑफिसर गगनदीप सिंह बेदी ने बताया कि गाजा तूफान से कुड्डालोर जिला भी काफी प्रभावित हो रहा है. तेज बारिश और हवाओं के चलते सड़कों पर पेड़ गिर गए हैं. उन्होंने कहा कि प्रशासन के पहले से सतर्क होने के कारण ज्यादा गंभीर हालात नहीं है.

अपडेट 1- गाजा तूफान के चलते तमिलनाडु के नागपट्टिनम में पूरी रात तेज बारइश हुई. साथ ही तेज हवाएं भी चलीं. सुबह बारिश के थोड़ी सी हल्की होने पर एनडीआरएफ की टीम बचाव कार्य में जुट गई है.

गाजा तूफान (Gaja Cyclone) शुक्रवार सुबह तमिलनाडु तट से टकरा गया है. तूफान के आने के बाद से ही लगातार तमिलनाडु के तटवर्ती जिलों में तेज हवाएं और बारिश हो रही है. इस दौरान नागपट्टिनम में करीब 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक नागपट्टिनम और तिरूवरूर जिले में अब तक इस तूफान से 6 लोगों की मौत हो चुकी है. तेज हवी की वजह से कई जगहों पर पेड़ उखड़ने की भी खबर आ रही है.

मौसम विभाग की मानें तो अगले कुछ घंटों में गाजा तूफान तमिलनाडु के दूसरे जिलों में भी पहुंच सकता है. बता दें कि तूफान की संभावनाओं के मद्देनजर प्रशासन ने तटवर्ती इलाकों में रहने वाले लोगों को पहले ही सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया है. साथ ही मछुआरों से भी इस दौरान समुद्र में न जाने की अपील की गई है. प्रशासन ने किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए सभी तरह के पुख्ता इंतजाम किए हुए हैं.

राज्य सरकार ने तूफान की चपेट में आसानी से आने वाले जिलों में पूरी तरह से अलर्ट जारी कर दिया है. सरकार ने बताया कि कुल 76,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है और नागपट्टिनम और कुड्डालोर सहित 6 जिलों में 331 राहत केंद्र खोले गए हैं. नागपट्टिनम, तिरूवरूर, कुड्डालोर और रामनाथपुरम सहित 7 जिलों में स्कूलों और कॉलेजों में छुट्टी घोषित कर दी गई है और सरकार ने निजी कंपनियों और प्रतिष्ठानों से अपने कर्मचारियों को जल्द घर वापस भेजने को कहा है ताकि वह शाम से पहले ही लौट सकें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi