S M L

अजीत डोभाल के बेटे ने जयराम रमेश, कारवां के खिलाफ दायर किया आपराधिक मानहानि का मुकदमा

दरअसल, कांग्रेस के जयराम ने आर्टिकल में आरोप लगाया था कि अजीत के बेटे विवेक ने नोटबंदी के कुछ दिनों बाद केमन आइसलैंड टेक्स हेवन कंट्री (कर मुक्त प्रदेश) में जो फंड लिया है, उसमें बड़ा घपला दिखाई दे रहा है.

Updated On: Jan 21, 2019 10:10 PM IST

FP Staff

0
अजीत डोभाल के बेटे ने जयराम रमेश, कारवां के खिलाफ दायर किया आपराधिक मानहानि का मुकदमा

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के बेटे विवेक डोभाल ने एक आर्टिकल को लेकर कांग्रेस नेता जयराम रमेश और पत्रिका कारवां के खिलाफ आपराधिक मानहानि का मुकदमा दायर किया है. इस आर्टिकल में डोभाल परिवार के जरिए संचालित कंपनियों के बारे में बताया गया है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक कांग्रेस के जयराम ने आर्टिकल में आरोप लगाया था कि अजीत के बेटे विवेक ने नोटबंदी के कुछ दिनों बाद केमन आइसलैंड टेक्स हेवन कंट्री (कर मुक्त प्रदेश) में जो फंड लिया है, उसमें बड़ा घपला दिखाई दे रहा है. उन्होंने कहा है कि आठ नवंबर 2016 को देश में नोटबंदी होती है और इसके 13 दिन बाद ही विवेक केमन आइसलैंड में जीएनवाई एशिया नाम से एक फंड लेते हैं.

वहीं शिकायत में कहा गया है कि आरोपी (रमेश और कारवां) ने उनके पिता (अजीत) के साथ सुलह करने के लिए शिकायतकर्ता (विवेक) को जानबूझकर बदनाम और बदनाम किया. कांग्रेस का कहना है कि साल 2000 से लेकर 2017 तक केमन आइसलैंड से देश में 8300 करोड़ रुपए की एफडीआई आती है. वहीं अप्रैल 2017 से मार्च 2018 तक 8300 करोड़ रुपया आ जाता है. जिसके बाद जयराम रमेश ने आरबीआई से इस मामले की जांच की मांग भी की है.

जयराम का कहना है कि जीएनवाई एशिया की इस एफडीआई में डोभाल की क्या भूमिका रही है? मामला सीधे तौर पर भ्रष्टाचार का है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi