S M L

वायु प्रदूषण मानकों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ दर्ज होगा आपराधिक मामला

नवंबर महीने की शुरुआत में वायु की गुणवत्ता और खराब होने की आशंका

Updated On: Oct 27, 2018 03:07 PM IST

Bhasha

0
वायु प्रदूषण मानकों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ दर्ज होगा आपराधिक मामला
Loading...

दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में हवा की लगातार ख़राब होती गुणवत्ता को ठीक करने के लिए सरकार ने यह फैसला किया है कि वह  वायु प्रदूषण मानकों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अब सख्त रुख अपनाते हुए आपराधिक मामला दर्ज कर कार्रवाई करेगी.

पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री हर्षवर्धन ने शनिवार को एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण की स्थिति की समीक्षा बैठक के बाद यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि हवा की गुणवत्ता में अपेक्षित सुधार नहीं होने पर केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सुझाव पर यह फ़ैसला किया गया है.

बैठक में सीपीसीबी के अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली के अलावा एनसीआर के चार शहरों नोएडा, ग़ाज़ियाबाद, फ़रीदाबाद और गुरुग्राम में पिछले एक महीने में स्थिति को सुधारने के लिए किए गए उपाय नाकाफ़ी साबित हो रहे हैं.

उन्होंने कहा कि अब सीपीसीबी के 41 के बजाए 50 निगरानी दल सप्ताह में दो दिन के बजाए कम से कम पाँच दिन इन शहरों में औचक निरीक्षण करेंगे. नियमों का पालन नहीं करने वालों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने की कार्रवाई की जाएगी.

वायु प्रदूषण की चिंताजनक स्थिति से निपटने के लिए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड नीत कार्यबल ने की अनुशंसाएं 

वहीं केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड नीत एक कार्यबल ने दिल्ली एनसीआर में वायु प्रदूषण की चिंताजनक स्थिति से निपटने के लिए एक नवंबर से 10 नवंबर के बीच कम से कम निजी वाहनों को चलने की अनुमति देने, कोयले एवं जैवईंधन आधारित उद्योगों को बंद करने जैसी कठोर अनुशंसाएं की हैं.

कार्यबल ने लोगों को सलाह दी है कि जहरीली हवा से कम से कम संपर्क में आने के लिए वह अधिक श्रम वाले बाहरी कामों से परहेज करें. साथ ही नवंबर महीने के शुरुआती दस दिनों में निजी कारों के प्रयोग में कटौती करने को भी कहा है.

शहर में बीते शुक्रवार प्रदूषण सूचकांक पर हवा की गुणवत्ता सर्वाधिक खराब दर्ज की गई. यह धीरे-धीरे ’गंभीर’ श्रेणी की तरफ बढ़ रही है. विशेषज्ञों ने चेताया है कि दिल्ली-एनसीआर में अगले महीने वायु गुणवत्ता और खराब हो सकती है क्योंकि हवा की दिशा उत्तरपश्चिम होने की संभावना है.

नवंबर महीने की शुरुआत में वायु की गुणवत्ता और खराब होने की आशंका

शुक्रवार को पर्यावरण मंत्रालय के प्रतिनिधियों, भारतीय मौसम विभाग, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अधिकारियों के साथ कार्यबल ने दिल्ली एनसीआर में वायु प्रदूषण को लेकर बैठक की थी और सदस्यों को सूचित किया कि दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण का स्तर और खराब होते हुए नजर आ रहा है.

मौसम विभाग के प्रतिनिधि सिद्धार्थ सिंह ने कहा कि दिल्ली में वायु की गुणवत्ता गिर कर बहुत खराब स्तर पर आ गई है और अगले कुछ दिनों तक इसके ऐसे ही बने रहने की आशंका है. बैठक में सिंह ने बताया कि नवंबर महीने की शुरुआत में हालात के और अधिक खराब होने की संभावना है. इसकी वजह आने वाले त्योहारों में प्रयोग होने वाले पटाखों और आसपास के इलाकों में पराली जलाने से निकलने वाला धुआं है.

पूर्व के अनुभवों को देखते हुए कार्यबल ने एक से 10 नवंबर के बीच कुछ और कदम उठाने की सिफारिशें की हैं, इनमें खुदाई संबंधी सार्वजनिक निर्माण कार्य, पत्थर तोड़ने के कार्य और हॉट मिक्स प्लांटों को बंद रखना शामिल है.

 

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi