S M L

भारत में चीनी सैनिकों का कब्रिस्तान, चीन की इच्छा बने पर्यटन स्थल

चीनी ने राज्य सरकार से ऐतिहासिक कब्रिस्तान को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का औपचारिक अनुरोध किया है

Updated On: Jan 14, 2018 05:11 PM IST

Bhasha

0
भारत में चीनी सैनिकों का कब्रिस्तान, चीन की इच्छा बने पर्यटन स्थल

झारखंड के रामगढ़ में स्थित ऐतिहासिक कब्रिस्तान को चीन वैश्विक पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करना चाहता है. यह कब्रिस्तान चीनी सैनिकों का है. कोलकाता में चीन के वाणिज्य दूतावास के महावाणिज्य दूत एमए झानवू ने इस बात की पुष्टि की है.

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान 667 चीनी सैनिक संयुक्त बलों में शामिल थे. इनके शव झारखंड के रामगढ़ शहर में दफन हैं.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कोलकाता में चीनी वाणिज्य दूतावास का पांच सदस्यीय दल एमए झांगवू की अगुवाई में पिछले शुक्रवार को कब्रिस्तान गया था और उन्होंने शहीद चीनी सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की थी.

उन्होंने यहां प्रशासनिक अधिकारियों से कहा कि चीन ने राज्य सरकार से ऐतिहासिक कब्रिस्तान को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का औपचारिक अनुरोध किया है.

रामगढ़ के उपायुक्त राजेश्वरी बी ने कहा चीन के महावाणिज्य दूत और उनके दल को शनिवार को आना था लेकिन वे निर्धारित कार्यक्रम से एक दिन पहले ही पहुंच गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi